Tuesday, May 28, 2024
Uncategorized

मोदी की बात पर मोहर लगी,अडानी,अम्बानी से पैसे नही मिल रहे थे,इसलिए बदनाम कर रही थी कांग्रेस,अब पप्पू चप्पू सब चुप,

 

‘अदाणी-अंबानी से नहीं मिले पैसे, इसलिए कांग्रेस ने चलाया बदनाम करने का अभियान’, अधीर रंजन ने किया खुलासा

कांग्रेस नेता और बहरामपुर के उम्मीदवार अधीर रंजन चौधरी ने एक नया विवाद खड़ा कर दिया है। उन्होंने खुलासा किया कि कांग्रेस ने देश के मशहूर उद्योगपतियों के खिलाफ बदनाम करने का अभियान क्यों चलाया। कांग्रेस नेता ने बताया कि पार्टी ने उद्योगपतियों के खिलाफ यह अभियान इसलिए चलाया, क्योंकि उन्होंने (उद्योगपतियों) देश की सबसे पुरानी पार्टी को पैसे नहीं भेजे। मीडिया को एक साक्षात्कार देते हुए अधीर रंजन ने कहा कि अगर उद्योगपति कांग्रेस को पैसों से भरा बैग भेजेंगे तो, पार्टी उनके खिलाफ चुप हो जाएगी।

अधीर रंजन ने खड़ा किया नया विवाद
तेलंगाना में एक रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने राहुल गांधी पर उद्योगपतियों के खिलाफ चुप्पी साधने को लेकर  सवाल किया था। उन्होंने कहा था, “अदाणी और अंबानी से कांग्रेस ने कितना काला धन लिया?” पीएम मोदी की इस टिप्पणी पर कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा, “अगर यह आता, तो बहुत अच्छा होता। मुझे बहुत ज्यादा की जरूरत है। मैं एक बीपीएल सांसद हूं और मुझे पैसों की बहुत जरूरत है।”

अधीर रंजन ने आगे कहा, “एक बीपीएल सांसद होने के नाते मेरे पास चुनाव में लड़ने के लिए पैसे नहीं है। अगर अदाणी एक बोरी पैसा भेज दे, तो मेरे लिए काफी होगा। उन्होंने दावा किया कि वह एक बीपीएल सांसद है, क्योंकि उन्हें दान में एक पैसा भी नहीं मिल रहा है।”

जब कांग्रेस नेता से उद्योगपतियों के खिलाफ बदनामी का अभियान शुरू करने और पैसे की मांग करने पर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, “हां हमने ऐसा किया, क्योंकि वे हमें पैसे नहीं दे रहे हैं। अगर वे ऐसा करते तो हम उनके खिलाफ चुप रहते।” अपने इस बयान के तुरंत बाद अधीर रंजन ने सफाई पेश करते हुए कहा, “पहले उन्हें (अदाणी,अंबानी) पैसे भेजने दीजिए, फिर कांग्रेस तय करेगी (चुप रहना है या नहीं)।”

ईडी-सीबीआई की जांच को लेकर पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए अधीर रंजन ने कहा, “किसे फर्क पड़ता है? ईडी मूर्ख है। वे पीएम मोदी की दिशा में दौड़ रहे हैं।”

ममता बनर्जी पर साधा निशाना
कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने इस दौरान बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को भी घेरा। उन्होंने ममता पर भाजपा के लिए एक बी टीम के तौर पर काम करने का आरोप लगाया है। बहरामपुर के उम्मीदवार ने कहा कि ममता बनर्जी भाजपा के लिए बी टीम के रूप में काम कर रही है, जिससे कि वह यह सीट न जीत पाए।

उन्होंने आगे कहा, “ममता बनर्जी मुसलमानों को यह कहकर भड़का रही है कि अधीर रंजन चौधरी दादा है। दादा को हराओ और युसूफ पठान को जीताओ। जब वह हिंदुओं के बीच जाती है तो यह कहती है कि भाजपा क बढ़क मिल गई। हिंदू एकजुट हो गए हैं, इसलिए हिंदुओं द्वारा कांग्रेस को वोट देने से कोई फायदा नहीं है।”

अधीर रंजन ने टीएमसी नेता अभिषेक बनर्जी को चुनौती दी है। उन्होंने कहा, “मैंने अभिषेक बनर्जी को इस सीट से चुनाव लड़ने की चुनौती दी, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। अगर मैं चुनाव हारता हूं तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा।” कांग्रेस नेता से जब यह पूछा गया कि राजनीति छोड़ने ते बाद वह क्या करेंगे, तब उन्होंने कहा अनजाने में ही पीएम मोदी के राशन योजना की तारीफ कर दी।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, साक्षात्कार के दौरान अधीर रंजन ने ममता बनर्जी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने बताया कि जो पीएम मोदी नहीं कहा, वो ममता बनर्जी ने कह दिया। ममता ने कहा कि देश की सबसे पुरानी पार्टी को 40 सीट भी नहीं जीत पाएगी। इस दौरान अधीर रंजन ने दावा किया कि कांग्रेस का प्रदर्शन इस बार सभी को चौंका देगा।

 

Leave a Reply