Tuesday, July 16, 2024
Uncategorized

लोकसभा स्पीकर – ममता बनर्जी नही तैयार राहुल गांधी की बात मानने को,कांग्रेस नाक रगड़ने को मजबूर

लोकसभा स्पीकर को लेकर इस वक्त की बड़ी खबर मिल रही है. स्पीकर के नाम को लेकर विपक्ष में दो फाड़ हो गया. ममता बनर्जी ने विपक्ष के प्रत्याशी का विरोध किया. के.सुरेश के नाम पर ममता बनर्जी सहमत नहीं है. के.सुरेश के नामांकन पर TMC ने हस्ताक्षर नहीं किए. आपको बता दें कि लोकसभा स्पीकर को लेकर इस वक्त की बड़ी खबर मिल रही है.

स्पीकर पद के लिए अब कल चुनाव होगा. स्पीकर पद पर आम सहमति नहीं बनी है. ओम बिरला ने NDA उम्मीदवार के तौर पर दाखिल नामांकन किया. जबकि के. सुरेश ने विपक्ष की ओर से नामांकन भरा. आपको बता दें कि  स्पीकर पद को लेकर सहमति नहीं बनी थी. इसलिए INDIA गठबंधन भी स्पीकर के लिए अपना उम्मीदवार उतारा. के.सुरेश विपक्ष के स्पीकर उम्मीदवार होंगे.

भारत के संसदीय इतिहास में फिर एक बार लोकसभा स्पीकर के पद के लिए चुनाव होंगे। 18 वीं लोकसभा के स्पीकर पद के लिए भाजपा ने 17वीं लोकसभा के स्पीकर ओम बिरला जबकि कॉन्ग्रेस ने आठ बार के सांसद कोडिकुन्निल सुरेश को चुनाव में उतारा है।

सोमवार (24 जून, 2024) से चालू हुए 18वीं लोकसभा के पहले सत्र में सबसे पहले नवनिर्वाचित सांसदों को शपथ दिलाई गई। सोमवार को 262 लोकसभा सांसदों ने शपथ ली। मंगलवार (25 जून, 2024) को लोकसभा के बाकी 281 सांसद शपथ लेंगे। उन्हें प्रोटेम स्पीकर भर्तृहरि महताब सांसद पद की शपथ दिलाएँगे।

लोकसभा में अब स्पीकर पद का चुनाव होना है। सामान्यतः यह परम्परा रही है कि लोकसभा स्पीकर पद का चुनाव नहीं होता, उसे पक्ष और विपक्ष आपस में सहमति से चुन लेते हैं। अभी तक यही परम्परा रही है। हालाँकि, इस बार कॉन्ग्रेस के अड़ियल रवैये के चलते स्पीकर पद के लिए चुनाव होगा।

भाजपा ने स्पीकर पद के लिए 17 वीं लोकसभा के स्पीकर रहे कोटा सांसद ओम बिरला को फिर से उतारा है जबकि कॉन्ग्रेस ने मवेलीकारा से सांसद के सुरेश को मौक़ा दिया है। ओम बिरला और के सुरेश ने स्पीकर पद के लिए नामांकन भी कर दिया है। प्रधानमंत्री मोदी ओम बिरला के प्रस्तावक बने हैं। वहीं सुरेश के प्रस्तावक कॉन्ग्रेस समेत अन्य कई पार्टियों के नेता भी बने हैं।

स्पीकर के पद के लिए चुनाव 26 जून, 2024 को होने हैं। इस दिन सभी सांसद नए स्पीकर और डिप्टी स्पीकर का चुनाव करेंगे। संसद के भीतर NDA का पलड़ा भारी लग रहा है, ऐसे में ओम बिरला के स्पीकर निर्वाचित होने के ही कयास हैं। लोकसभा के भीतर NDA के पास 290 से अधिक सांसदों का समर्थन है जबकि कॉन्ग्रेस की अगुवाई वाले INDI गठबंधन के पास 240 से कम सांसद हैं। कॉन्ग्रेस के स्पीकर पद कि जिद को लेकर ही चुनाव की नौबत आ रही है।

Leave a Reply