Monday, March 4, 2024
Uncategorized

3 साल के मरे हुए बेटे ने सपने में आकर कबूल करवा दी हत्या

 

मध्य प्रदेश के ग्वालियर शहर से एक 3 साल के बच्ची की हत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया है. दरअसल, जब बच्ची के कातिलों को पता चला तो हर कोई हैरान रह गया. इससे भी बड़ी बात यह है कि जिस तरह से खुद कातिल मां हत्या करने की बात को कबूला वो सभी को चौंका रहा है. ऐसा शायद ही पहली बार हुआ है, जब कोई कातिल हत्या के बाद चैन से नहीं सो पाया.

दरअसल, ग्वालियर में पुलिस कांस्टेबल ध्यान सिंह की पत्नी ज्योति राठौर के अपने पड़ोसी उदय इंदौलिया से अनैतिक संबंध थे.। इसी के चलते उसने 28 अप्रैल को अपने घर की छत से तीन साल के बेटे को फेंक कर मार डाला. इस बच्ची का कसूर सिर्फ इतना था कि उसने अपनी मां को प्रेमी के साथ देख लिया था. महिला को लगा कि उसका बेटा उसके प्रेम संबंधों के बारे में पति को सब कुछ बता देगा. इसी से घबरा कर उसने अपने बेटे सनी को छत से फेंक दिया. दो मंजिल से गिरने के कारण बच्चे के सिर में गंभीर चोंटे आई. उसका एक दिन जयारोग्य अस्पताल में इलाज भी चला, लेकिन अगले ही दिन यानी 29 अप्रैल को उसकी मौत हो गई.

फिर ऐसे हुआ खुलासा
घर के लोग और ध्यान सिंह यही मानकर चल रहे थे कि असावधानी वश उसके बेटे का छत से पैर फिसल जाने के कारण वह नीचे गिर गया और उसकी मौत की यही वजह रही होगी, लेकिन कहते हैं पाप कितना भी छिपा लो नहीं छिपता. कुछ दिन बाद ही ज्योति को डरावने सपने आने लगे और अपना बेटा सपने में दिखाई देने लगा. आखिरकार उसने अपने पति के सामने हत्या करने की बात कबूल कर ली. पति ने इसका ऑडियो और वीडियो बना लिया और पुलिस को सब कुछ बता दिया. जिस पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए ज्योति राठौर को गिरफ्तार कर लिया. अब उसके प्रेमी उदय इंदौलिया को भी गिरफ्तार कर लिया गया है.

इस तरह की गई थी हत्या
घटना के समय उदय भी ज्योति के साथ छत पर ही मौजूद था. 28 अप्रैल को प्लास्टिक के दुकान के उद्घाटन के सिलसिले में ध्यान सिंह ने कई लोगों को बुलाया था. इनमें उदय इंदौलिया भी शामिल था. इस बीच सब की नजर बचाकर ज्योति और उदय छत पर चले गए. इसी दौरान मासूम सनी उर्फ जतिन भी छत पर अपनी मां के पीछे पीछे पहुंच गया. सनी को देख ज्योति घबरा गई और उसने अपने ही बेटे को सिर्फ सबूत मिटाने की खातिर खत्म कर दिया.

Leave a Reply