Tuesday, July 16, 2024
Uncategorized

टिकैत को चेतावनी,ले कर आ तू 1 लाख ट्रेक्टर टिकैत,हम 5 लाख लाएंगे

राजपूत स्वाभिमान मंच के प्रदेश अध्यक्ष कुंवर कुलदीप सिंह ने राकेश टिकैत पर निशाना साधते हुए कहा कि इनका तो काम ही देशद्रोही ताकतों के साथ मिलकर आंदोलन चलाने का है. दिल्ली के जंतर-मंतर पर चल रहा धरना जाट बनाम राजपूत की शक्ल लेता दिख रहा है. जाटों की कई खापों और संगठनों ने इस धरने को समर्थन किया है. वहीं राजपूतों की संस्था राजपूत स्वाभिमान मंच ने कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के समर्थन का ऐलान कर दिया है. राजपूत मंच ने कहा है कि अगर खाप चौधरी ट्रैक्टरों का काफिला दिल्ली ले जाकर दबाव बनाने की कोशिश करेंगे तो इसका मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा. राजपूत भी ट्रैक्टर लेकर दिल्ली की तरफ निकल जाएंगे.

 

जब से खाप चौधरियों और टिकैत यूनियन ने महिला पहलवानों के समर्थन की बात कही है तो वहीं और राजपूत समाज में भी बृजभूषण शरण सिंह की ओर से मोर्चा संभाल लिया है. ठीक है कल राजपूत स्वाभिमान मंच के प्रदेश अध्यक्ष कुंवर कुलदीप सिंह ने खाप चौधरियों और भाकियू टिकैत को सख्त लहजे में चेतावनी देते हुए कहा था यदि इस मामले में यूनियन और खाद चौधरी आगे आएंगे तो हम भी पीछे नहीं रहेंगे. उन्होंने कहा था यूनियन टिकट के पास एक लाख ट्रैक्टर है तो हम पांच लाख टैक्टर लेकर जाएंगे.

आपको बता दें कि मुजफ्फरनगर के कचहरी परिसर स्थित जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचे राजपूत महासभा के जिला अध्यक्ष ठाकुर राजेंद्र पुंडीर ने कहा कि बृजभूषण शरण सिंह के समर्थन में यह ज्ञापन दिया गया है. उन्होंने कहा कि हरियाणा का फोगाट परिवार दिल्ली के जंतर मंतर पर अपना धरना रखे हुए हैं. उन्होंने खिलाड़ियों के धरना प्रदर्शन को राजनैतिक और प्रायोजित बताया. राजपूत महासभा ने कहा कि बृजभूषण शरण सिंह राजपूत समाज से आता है और उन्हीं के समर्थन में हमने प्रधानमंत्री को एक ज्ञापन दिया है. उन्होंने खाप चौधरियों और टिकैत यूनियन को चेतावनी देते हुए कहा यदि वह जाएंगे तो राजपूत समाज भी जाएगा और ट्रैक्टर ट्रॉली उनके पास है तो हमारे पास उनसे ज्यादा ट्रैक्टर ट्रॉलिया है. जिलाध्यक्ष राजेंद्र पुंडीर ने कहा कि हम राष्ट्रवादी सोच के लोग हैं किसी मामले में पहल नहीं करते यदि कोई पहल करता है तो उसका अंत हम करते है.

कुलदीप सिंह ने कहा कि ऐसे-ऐसे संगठनों, खापों ने और टिकैत यूनियन ने समाज को जाति में बांट दिया है. इनको वहां जाने की क्या जरूरत है और हम तो बिल्कुल कुछ नहीं बोले बृजभूषण शरण सिंह राजपूत हैं. महिला खिलाड़ी पिछली बार धरने पर बैठे और अब फिर धरने पर बैठी है. जांच कमेटी खेल मंत्रालय ने गठित कर दी. मेरी कॉम जो मणिपुर की रहने वाली है जिन्हें ये भी नहीं पता के राजपूत और जाट क्या होता है वो अध्यक्ष हैं और वह निर्णय देगी.

राजपूत स्वाभिमान मंच के नेता ने टिकैत यूनियन की ओर इशारा करते हुए कहा कि ये बीच में कूद रहे हैं. हम तो नहीं कर रहे हैं और हम तो एक मांग करते हैं, यदि बच्चियों के साथ कुछ हुआ है तो बृजभूषण शरण सिंह को सजा होनी चाहिए और नहीं कुछ हुआ है तो वह गलत है तो उनके पीछे जो ताकत है इनको लड़वा रही है, इनको फोकस बनाकर इनको विलेन बना रही है उनको सजा मिलनी चाहिए.

कुलदीप सिंह ने कहा कि विनेश फोगाट के आरोप पर जांच की तो पता चला कि जिस दिन की घटना बताई जा रही है उस दिन बृजभूषण शरण सिंह तुर्की गए ही नहीं थे. उन्होंने कहा कि पहले 10 महिला पहलवान थी उसके बाद संख्या बढ़ती चली गई. उन्होंने इस पूरे प्रकरण को हरियाणा की राजनीति से जुड़ा हुआ बताया.

Leave a Reply