Monday, March 4, 2024
Uncategorized

मध्यप्रदेश संग्राम : यहां होगी भाजपा कांग्रेस की जमकर टक्कर (PART 1)

भाजपा नेता पं. नीरज शर्मा का BJP से इस्तीफा, मंत्री गोविंद राजपूत को देंगे टक्कर, 24 को कांग्रेस में होंगे शामिल

भोपाल: मध्य प्रदेश में सागर जिले के सुरखी विधानसभा क्षेत्र के कद्दावर नेता, पूर्व जनपद और राहतगढ़ नगर परिषद अध्यक्ष पंडित नीरज शर्मा ने आज कांग्रेस में शामिल होने के लिए भारतीय जनता पार्टी से इस्तीफा दे दिया। पिछले 15 सालों से शर्मा का जनपद और राहतगढ़ नगर परिषद पर कब्जा है।

स्वतंत्रता संग्राम सेनानी परिवार से जुड़े पंडित नीरज शर्मा की पहचान इलाके में एक दबंग और गोविंद राजपूत के धुर विरोधी नेता के तौर पर होती है।

साल 2010 में जनपद अध्यक्ष का चुनाव नीरज शर्मा ने गोविंद राजपूत के भाई को हराकर जीता था तब से पंडित शर्मा की राजनीतिक लड़ाई राजपूत परिवार से चल रही थी। पंडित शर्मा सागर के पूर्व सांसद एवं भाजपा नेता लक्ष्मी नारायण यादव के दाएं हाथ माने जाते हैं।

WhatsApp Image 2023 08 22 at 17.48.40

बताया गया है कि अपने परम्परागत राजनैतिक विरोधी, सिंधिया समर्थक गोविंद राजपूत के भाजपा में आने के कारण शर्मा घुटन महसूस कर रहे थे।

बुंदेलखंड में यादव समाज के बड़े नेता लक्ष्मी नारायण यादव का वरदहस्त प्राप्त नीरज शर्मा ने पिछले साल राहतगढ़ नगर परिषद के चुनाव में गोविंद राजपूत के समर्थक को हराकर अपने समर्थक को नगर परिषद अध्यक्ष की कुर्सी पर बैठाया था। वर्तमान में राहतगढ़ नगर परिषद के अध्यक्ष गोलू राय, नीरज शर्मा के परिवार के हैं।

साल 2021 में हुए सुरखी विधानसभा के उपचुनाव के समय से ही नीरज शर्मा कांग्रेस पार्टी के संपर्क में थे। कांग्रेस पार्टी ने अब सुरखी विधानसभा में गोविंद राजपूत की घेराबंदी इस तरह से की है की अब राजपूत हार सकते है। कुछ समय पहले भाजपा से निष्कासित नेता राजकुमार धनोरा भी कांग्रेस में शामिल हुए थे।

उल्लेखनीय है कि नीरज शर्मा की इलाके में छवि एक स्वच्छ राजनीतिज्ञ होने के अलावा बाहुबली की है। अपने राजनीतिक जीवन में पंडित नीरज शर्मा एक भी चुनाव नहीं हारे हैं। माना जा रहा है कि नीरज शर्मा के कांग्रेस में आ जाने के कारण कांग्रेस को ना केवल सुरखी क्षेत्र में फायदा मिला है बल्कि आसपास के खुरई और देवरी विधानसभा क्षेत्र में लाभ मिलेगा।

पंडित नीरज शर्मा 24 अगस्त को प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में पूर्व मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ के समक्ष सदस्यता लेंगे। कहा जा रहा है कि पंडित नीरज शर्मा के समर्थन में उस दिन सुरखी विधानसभा से लगभग एक हजार गाड़ियों का काफिला सुबह-सुबह निकलेगा और 11.30 बजे भोपाल पहुंचेगा। माना जा रहा है कि यह शक्ति प्रदर्शन पिछले सप्ताह मालवा के भाजपा नेता समंदर पटेल की भोपाल यात्रा की तुलना में बहुत बड़ा होगा।

24 अगस्त को पंडित शर्मा के साथ भारतीय जनता पार्टी के सैकड़ो नेता, कार्यकर्ता, सरपंच, जनपद सदस्य, किसान मोर्चा, युवा मोर्चा एवं भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के सदस्य उनके साथ कांग्रेस की सदस्यता लेंगे।

पिछले 10 दिन से इस शक्ति प्रदर्शन को लेकर सुरखी विधानसभा के विभिन्न सेक्टरों में लगातार बैठक में चल रही थी।

पंडित नीरज शर्मा के कांग्रेस ज्वाइन करने के साथ कांग्रेस पार्टी की इलाके में गोविंद राजपूत को टक्कर देने के लिए किसी कद्दावर नेता तलाश खत्म हो गई है।

Leave a Reply