Monday, March 4, 2024
Uncategorized

कमलनाथ का इस्तीफा

 

मध्यप्रदेश की राजनीति से एक बड़ी खबर सामने आई है। चुनाव मंे मिली हार के बाद कमलनाथ ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। कमलनाथ ने अपना इस्तीफा पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष खरगे को सौंपा है। कमलनाथ ने बीते दिन खरगे और राहुल गांधी से मुलाकात की थी। मुलाकात के दौरन कमलनाथ ने अपने इस्तीफे की पेशकश की थी।

दरसअल, मध्यप्रदेश विधानसभा चुनावों में कांग्रेस को मिली बुरी हार के बाद से आलाकमान पार्टी प्रदेश अध्यक्ष बदलने पर मंथन कर रही थी। बीते दिन कमलनाथ आलाकमान के सामने पेश हुए थे। कमलनाथ ने पार्टी अध्यक्ष खरगे और राहुल गांधी से मुलाकात की थी। कमलनाथ ने विधानसभा चुनावों में मिली हार के चलते प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफें की पेशकश की थी।

अगला प्रदेश अध्यक्ष कौन? 

कमलनाथ के इस्तीफें के बाद से प्रदेश कांग्रेस में सुगबुगाहट तेज हो गई है। कमलनाथ के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद पार्टी की कमान कौन संभालेगा इसको लेकर तीन प्रमुख नाम सामने आए हैं। राजनैतिक विशेषज्ञों का कहना है कि कांग्रेस इस बार युवा चेहरे को सामने ला सकती है। पार्टी उमंग सिंघार, जीतू पटवारी या फिर अरूण यादव को प्रदेश की कमान सौंप सकती है।

राजनैतिक जानकारों की माने तो प्रदेश अध्यक्ष पद के लिए उमंग सिंघार कांग्रेस के लिए फायदेमंद साबित हो सकते है। क्योंकि सिंघार आदिवासी वर्ग से आते है। हाल ही में हुए चुनावों में कांग्रेस का आदिवासी इलाकों में प्रदर्शन ठीक नहीं रहा है। ऐसे में आगामी लोकसभा चुनावों में आदिवासी वोट बैंक पर फोकस करने के लिए उमंग सिंघार को अध्यक्ष पद से नवाजा जा सकता हैं।

वही दूसरा नाम जीतू पटवारी का अध्यक्ष पद के लिए आगे किया जा सकता है। जीतू पटवारी युवा चेहरों में पहले पायदान पर आते है। भलें ही जीतू पटवारी विधानसभा चुनाव हार गए, लेकिन वह युवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष रह चुके है। युवाओं की टोली में उनका अच्छा खासा प्रभाव है। युवा लिस्ट में जयवर्धन सिंह का नाम भी शामिल है। इसके अलावा अरुण यादव भी प्रदेश अध्यक्ष के प्रबल दावेदार है। वह पहले भी कांग्रेस की कमान संभाल चुके है। अरूण अनुभवी नेताओं में से एक है।

Leave a Reply