Friday, June 21, 2024
Uncategorized

मोदी ने वो कर दिखाया जो,मनमोहन सिंह ने सोचा न था,रघु राम राजन देख न सका,राहुल गांधी की सोच के बाहर

भारतीय अर्थव्यवस्था ने रविवार (19 नवंबर) को बड़ी उपलब्धि हासिल की है। इंडियन इकोनॉकी ने ऐतिहासिक शिखर पर पहुंचते हुए पहली बार जीडीपी ने 4 मिलियन डॉलर को छूआ है। यह लैंडमार्क भारत के मजबूत आर्थिक ट्राजेक्टरी और उत्थान को दर्शाता है। यह दुनिया में तेजी से बढ़ती प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं में भारत की स्थिति को रेखांकित करती है।

अपनी नवीनतम रिपोर्ट में, एसएंडपी ग्लोबल ने मध्यम अवधि में भारत के लिए पर्याप्त आर्थिक विकास का अनुमान लगाया है। रिपोर्ट में FY24 और FY26 के बीच 6 से 7.1 प्रतिशत तक वार्षिक सकल घरेलू उत्पाद विस्तार की कल्पना की गई है। रिपोर्ट में भारत की आर्थिक वृद्धि में निरंतर गति पर जोर दिया गया है जिसमें 2024-2026 के दौरान 6-7.1 प्रतिशत के बीच लगातार वार्षिक सकल घरेलू उत्पाद वृद्धि की भविष्यवाणी की गई है।
इसके अलावा एसएंडपी ग्लोबल को बैंकिंग क्षेत्र के भीतर एनपीए में कमी की उम्मीद है। वित्त वर्ष 2025 के समापन तक ग्रास एडवांस के 3-3.5 प्रतिशत तक गिरावट का अनुमान है। यह पॉजिटिव चेंज, स्वस्थ कॉर्पोरेट बैलेंस शीट, कड़े अंडरराइटिंग स्टैंडर्ड्स और रिस्क-मैनेजमेंट सिस्टम्स को संरचनात्मक सुधारों का श्रेय देता है।
दिग्गज बीजेपी नेताओं ने शेयर की स्क्रीनशॉट
चार ट्रिलियन भारत की नॉमिनल जीडीपी के पार किए जाने वाली सूचना का स्क्रीनशॉट कई बीजेपी नेताओं ने शेयर कर बधाई दी है। महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, केंद्रीय कानून मंत्री अर्जुन राम मेघवाल, रवींद्र जडेजा की पत्नी बीजेपी विधायक रिवाबा जडेजा आदि ने 4 ट्रिलियन डॉलर की जीडीपी का स्क्रीनशॉट शेयर किया है। हालांकि, अडानी ग्रुप के मालिक गौतम अडानी ने भी स्क्रीनशॉट शेयर कर बधाई दी। लेकिन कुछ ही देर बाद उन्होंने अपने इस ट्वीटर को को डिलीट कर दिया। वैसे, केंद्र सरकार ने जीडीपी की इस उपलब्धि के बारे में कोई आधिकारिक जानकारी नहीं दी है।

 

Leave a Reply