Tuesday, May 28, 2024
Uncategorized

गायब हो रहे कांग्रेस के लोकसभा प्रत्याशी, पार्टी जबर्दस्ती टिकट दे चुनाव लड़वा रही

 

लोकसभा चुनाव में कांग्रेस ने जिन नेताओं को मैदान में उतारा है। वे अचानक गायब हो गए हैं। हैरानी की बात तो यह है कि नाम वापसी के अंतिम दिन उनका फोन स्वीच आफ आ रहा है। ऐसे में कांग्रेस को फिर से बड़ा झटका लगने की उम्मीद नजर आ रही है।

जयपुर. लोकसभा चुनाव में राजस्थान की 25 सीटों पर प्रत्याशियों को मैदान में उतार दिया गया है। इस महीने के 8 दिनों के दौरान तीन बार तीन बार प्रधानमंत्री मोदी, दो बार अमित शाह, दो बार दो बार राजनाथ सिंह, दो बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत कई भारतीय जनता पार्टी के बड़े नेता राजस्थान में चुनाव प्रचार के लिए आ चुके हैं। आने वाले 6 दिनों में फिर से तीन बार प्रधानमंत्री जयपुर समेत अन्य सीटों पर आने वाले हैं। कुछ जगह रोड शो करने की तैयारी है, लेकिन इसी बीच कांग्रेस का चुनाव प्रचार बेहद धीमा चल रहा है। एक तो प्रचार धीमा चल रहा है। ऊपर से कांग्रेस के कई प्रत्याशी पहले ही कह चुके हैं की पार्टी ने उन्हें जबरदस्ती टिकट दिया है। इस बीच कांग्रेस के दुखी होने की एक और बड़ी वजह सामने आई है। कांग्रेस के दो प्रत्याशी रातों-रात गायब है।
इन सीटों से मिला था टिकट
दरअसल कांग्रेस ने बागीदौरा विधानसभा सीट से महेंद्रजीत सिंह मालवीय को विधानसभा चुनाव में टिकट दिया था और महेंद्रजीत सिंह मालवीय ने यह चुनाव जीत लिया था।  लेकिन कुछ दिन पहले उन्हें समझ में आया कि उनकी जगह भारतीय जनता पार्टी में है , तो वह अपनी सीट छोड़कर भारतीय जनता पार्टी में चले गए और भारतीय जनता पार्टी में उन्हें बांसवाड़ा सीट से ही सांसद का टिकट दे दिया। बागीदौरा इस सीट पर अब कांग्रेस ने उपचुनाव के लिए कपूर सिंह नाम के प्रत्याशी का नामांकन दाखिल कराया था। यह उपचुनाव भी कुछ ही दिन में होने वाले हैं।
कांग्रेस ने दिया आदिवासी पार्टी को समर्थन

आज नाम वापसी का अंतिम दिन है और कल कांग्रेस पार्टी ने बांसवाड़ा से स्थानीय पार्टी भारतीय आदिवासी पार्टी को समर्थन दिया है। इस हिसाब से आज कपूर सिंह का नामांकन वापस करना था। आज नामांकन वापसी की अंतिम तारीख है, लेकिन कपूर सिंह कल रात से गायब है उनका फोन भी स्विच ऑफ है।
बांसवाड़ा से अरविंद डामोर भी गायब
अब बात दूसरे प्रत्याशी की कांग्रेस पार्टी ने बांसवाड़ा सीट से अरविंद डामोर नाम के प्रत्याशी का लोकसभा नामांकन दाखिल कराया था । इस सीट पर भी भारतीय आदिवासी पार्टी को कांग्रेस ने समर्थन दे दिया है और कांग्रेस वापस अपना प्रत्याशी ले रही है। उसे आज नामांकन वापस लेना था,  लेकिन वह प्रत्याशी भी कल रात से ही गायब है। आज नाम वापसी का अंतिम दिन है लेकिन दोनों प्रत्याशी गायब है। इन दोनों प्रत्याशियों को तलाशा जा रहा है। अगर शाम तक नाम वापसी नहीं होती है, तो कांग्रेस पार्टी बड़ी मुश्किल में पढ़ सकती है।

Leave a Reply