Monday, March 4, 2024
Uncategorized

लोकसभा चुनाव की तारीख आ गयी 16,ममता बनर्जी ने कांग्रेस से नाता तोड़

नई दिल्ली

 

 देश में लोकसभा चुनाव इसी साल अप्रैल से मई के बीच संभावित है। दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी द्वारा सभी जिला निर्वाचन अधिकारियों को भेजे गए तैयारियों संबंधित एक लेटर में मतदान तिथि अंकित है। इस लेटर के सामने आने के बाद लोकसभा का डेट वायरल होने लगा है। लोकसभा चुनाव के लिए मतदान तिथि सामने आने पर मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने साफ किया है कि किस तारीख को चुनाव है.?

मुख्य निर्वाचन अधिकारी दिल्ली ने कहा कि लोकसभा चुनाव की तैयारियां की जा रही हैं।P तैयारियों के लिए एक टेंटेटिव डेट निर्धारित किया गया है ताकि तैयारियों को फाइनल किया जा सके। इन तैयारियों के लिए एक पोलिंग डे का डेट संदर्भ के लिए चुना गया है। यह इलेक्शन की फाइनल डेट या कोई अनाउंसमेंट नहीं है बल्कि आंतरिक तैयारियां पूरी करने के लिए एक संदर्भ मात्र है। सूत्र

दरअसल, दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय द्वारा 11 जिला निर्वाचन अधिकारियों (DEO) को भेजे गए एक सरकारी पत्र में लोकसभा चुनाव की संभावित तारीख 16 अप्रैल 2024 बताई गई है।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी (CEO) दिल्ली के कार्यालय द्वारा जारी लेटर में कहा गया है कि आयोग ने संदर्भ के उद्देश्य से और चुनाव योजना में प्रारंभ और समाप्ति तिथियों की गणना के लिए अस्थायी रूप से 16 अप्रैल 2024 को वोटिंग डेट दर्ज किया है।

लोकसभा चुनाव 2024 से पहले ही ‘इंडिया’ गठबंधन में दरार पड़ गई है. टीएमसी और कांग्रेस के बीच बनते-बनते बात बिगड़ गई. और अब ममता बनर्जी ने अकेले लोकसभा चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है. ममता बनर्जी का यह फैसला ‘इंडिया’ गठबंधन के लिए किसी बड़े झटके से कम नहीं है. कांग्रेस से सीट शेयरिंग को लेकर चल रही तनातनी के बीच ममता बनर्जी ने बुधवार को ऐलान किया कि उनकी टीएमसी पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव अकेले लड़ेगी. ममता बनर्जी ने कांग्रेस पर सीट शेयरिंग में देरी और टीएमसी के प्रस्ताव को ठुकराने का आरोप लगाया. हालांकि, ममता बनर्जी ने पहले ही संकेत दे दिया था कि टीएमसी लोकसभा चुनाव में ‘एकला चलो रे’ नीति अपना सकती है. अब सवाल उठता है कि आखिर ऐसा क्या हुआ कि ममता बनर्जी का मन कांग्रेस संग नहीं मिल पाया और उन्होंने इंडिया गठबंधन से अलग अकेले चुनाव लड़ने का फैसला कर लिया.

इंडिया गठबंधन को झटका देते हुए ममता बनर्जी ने कहा, ‘पश्चिम बंगाल में हम लोकसभा चुनाव अकेले लड़ेंगे. हमने जो प्रस्ताव दिए थे, उन्होंने सभी टुकरा दिए. मेरा प्रस्ताव नहीं माना इसलिए अब हम अकेले चुनाव लड़ेंगे. हम बंगाल में अब कांग्रेस के टच में नहीं हैं. कांग्रेस को अपने दम पर लड़ने दीजिए. हम अपने दम पर लड़ेंगे. अंतिम निर्णय लोकसभा नतीजों के बाद लिया जाएगा.’ टीएमसी सुप्रीमो का पश्चिम बंगाल की सभी 42 सीटों पर लोकसभा चुनाव लड़ने का फैसला इंडिया गठबंधन में सीट-बंटवारे के मुद्दे पर चल रही खींचतान के बीच आया है.

Leave a Reply