Monday, June 24, 2024
Uncategorized

केजरीवाल ने बंद की फ्री की बिजली दिल्ली वालों की,अब चुनाव के पहले चालू होगी फ्री …

नई दिल्ली: अरविंद केजरीवाल सरकार ने कहा है कि आज से दिल्ली में बिजली पर सब्सिडी नहीं प्राप्त होगी। कल से सभी को नॉर्मल रेट पर बिजली बिल का भुगतान करना होगा। शुक्रवार को केजरीवाल सरकार की मंत्री आतिशी मार्लेना ने इसका ऐलान करते हुए एलजी वीके सक्सेना पर ठीकरा फोड़ दिया है। उन्होंने दावा किया कि एलजी ने सब्सिडी वाली फाइल अपने समीप रोक ली है, जिसके कारण ऐसा हुआ है। उन्होंने कहा कि जब तक एलजी फाइल नहीं लौटाते हैं तब तक केजरीवाल सरकार सब्सिडी नहीं दे पाएगी।

एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में आतिशी मार्लेना ने कहा, ‘अरविंद केजरीवाल सरकार बिजली की सब्सिडी देती है, जिसके तहत 200 यूनिट तक बिजली फ्री होती है। 200 से 400 यूनिट तक 50 प्रतिशत बिल माफ होता है। वकीलों को , किसानों को, 84 के दंगों के पीड़ितों को सब्सिडी दी जाती है। आज से वो सारी बिजली की सब्सिडी रुक जाएगी। इसका अर्थ है कि कल से जो बिजली के बिल दिल्ली के उपभोक्ताओं को प्राप्त होंगे उसमें उन्हें सब्सिडी नहीं प्राप्त होगी। जिसकी जीरो बिल आता था उसको बढ़े हुए बिल मिलने लग जाएंगे। जिनको 50 प्रतिशत छूट प्राप्त होती थी उनको भी बढ़े हुए बिल मिलने लग जाएंगे।’

मार्लेना ने एलजी वीके सक्सेना पर ठीकरा फोड़ते हुए कहा, ‘यह सब्सिडी इसलिए रुक गई है क्योंकि केजरीवाल सरकार की मंत्रिमंडल ने फैसला किया कि हम आने वाले वर्ष में भी बिजली सब्सिडी जारी रखेंगे। उस फाइल को एलजी साहब अपने पास रखकर बैठ गए। वह फाइल एलजी साहब को भेजने के पश्चात् उनके कार्यालय ने रख लिया है। जब तक वह फाइल वापस नहीं आती है तब तक केजरीवाल सरकार सब्सिडी का पैसा रिलीज नहीं कर सकती है।’ मार्लेना ने कहा कि अरविंद केजरीवाल सरकार के पास पैसा है, पैसा विधानसभा ने पास किया है, फैसला मंत्रिमंडल ने ले लिया है, मगर इसके बावजूद सब्सिडी रुक जाएगी। उन्होंने कहा, ‘कल मेरे पास दिल्ली की एक कंपनी (टाटा पावर) से लेटर आया जिसमें उन्होंने कहा कि क्योंकि उन्हें आने वाले वर्ष के लिए सब्सिडी की खबर नहीं मिली है, इसलिए आज से वह नॉर्मल यानी बिना सब्सिडी की बिलिंग आरम्भ कर देंगे। बीएसईएस की दोनों डिस्कॉम से भी यही सूचना आई है।’

ऐसे खुली पोल केजरीवाल झूठ की,LG ने सच रख दिया सामने

ऊर्जा मंत्री आतिशी (Atishi) ने कहा है कि दिल्ली के 46 लाख परिवारों को शनिवार से बिजली बिल पर सब्सिडी नहीं मिलेगी. बिजली सब्सिडी का बजट विधानसभा से पास हुआ लेकिन कैबिनेट फैसले की फाइल एलजी ने रोक दी है. इस पर दिल्ली एलजी ऑफिस (LG Office) की ओर से भी जवाब आ गया है. एलजी हाउस के अधिकारी ने कहा है कि ऊर्जा मंत्री को सलाह दी जाती है कि एलजी के खिलाफ अनावश्यक राजनीति और निराधार झूठे आरोपों से बचें.

अधिकारी ने कहा, “ऊर्जा मंत्री को झूठे बयानों से लोगों को गुमराह करना बंद करना चाहिए. उन्हें और मुख्यमंत्री को दिल्ली की जनता को जवाब देना चाहिए कि इस संबंध में फैसला 4 अप्रैल तक लंबित क्यों रखा गया जबकि समय सीमा 15 अप्रैल थी? एलजी को 11 अप्रैल को ही क्यों भेजी गई फाइल? 13 अप्रैल को चिट्ठी लिखकर और शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर नौटंकी की क्या जरूरत है?”

आतिशी ने क्या आरोप लगाया?

इससे पहले आतिशी ने कहा था कि शुक्रवार से दिल्ली के लोगों को दी जाने वाली सब्सिडी वाली बिजली बंद कर दी जाएगी. यानी शनिवार से सब्सिडी वाले बिल नहीं दिए जाएंगे. यह सब्सिडी बंद कर दी गई है, क्योंकि आप सरकार ने आने वाले साल के लिए सब्सिडी जारी रखने का फैसला लिया है लेकिन वह फाइल दिल्ली एलजी के पास है और जब तक फाइल वापस नहीं आती है, तब तक आप सरकार सब्सिडी वाला बिल जारी नहीं कर सकती है.

‘सोमवार से आने वाले बिजली बिल में सब्सिडी नहीं होगी’

आतिशी ने कहा, “मैंने कल एलजी साहब के ऑफिस में मैसेज भेजा कि सिर्फ 5 मिनट का समय चाहिए. 46 लाख परिवारों को मिल रही बिजली सब्सिडी का मुद्दा है. कोई रिस्पांस नहीं आया. मीडिया के माध्यम से एलजी साहब से अनुरोध, फाइल क्लियर करें, नहीं तो सोमवार से आने वाले बिजली बिल में सब्सिडी नहीं होगी.”

Leave a Reply