Friday, June 21, 2024
Uncategorized

लव जिहाद: मुसलमान लड़कियों की गैंग ने जोड़ा व्हाट्सएप ग्रूप में,हिन्दू लड़की को बना लिया मुसलमान, सालो बाद शुद्ध होकर हुई हिन्दू

द केरल स्टोरी (The Kerala Story) ने असल जिंदगी की उन लड़कियों की कहानियों को चर्चा में ला दिया है, जिनका सुनियोजित तरीके से इस्लामी धर्मांतरण किया गया। इनमें से एक लड़की अनखा है। इस्लाम कबूलने के बाद उसका नाम आइमा अमीरा रखा गया। केरल में चल रहे ‘कन्वर्जन फैक्ट्री’ का सच जानने के लिए ABP न्यूज ने जिन पीड़िताओं से बात की है उनमें एक अनखा भी है।

कैमरे पर आकर अनखा ने अपनी कहानी बताई है। उसने कहा, “मुझे इस्लामिक व्हाट्सऐप ग्रुप से जोड़ दिया गया। इस्लाम अपनाने के लिए वीडियो दिखाए गए। इससे धीरे-धीरे मुझे इस्लाम में रुचि हो गई।” ABP न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, केरल के कई जिलों की लड़कियों ने बड़े पैमाने पर चल रहे धर्म परिवर्तन की साजिशों के बारे में बताया है। गैर मुस्लिम लड़कियों को टारगेट ब्रेन वॉश किया जाता है। इनमें से कुछ की शादी हो चुकी है। कुछ को परिवार ने छोड़ दिया है। कुछ को उनके पति छोड़कर चले गए हैं।

अनखा ने ABP न्यूज को बताया, “उन लोगों को जैसे ही पता चलता था कि उनके मजहब में किसी की रुचि है, तो वे अपने आप ज्ञान देना शुरू कर देते थे। उन्होंने मुझे अल्लाह के बारे में बताया कि वही एकमात्र भगवान हैं। पैगंबर मोहम्मद और कुरान के बारे में जानकारी दी गई। धीरे-धीरे उनकी बातों का मुझ पर असर होने लगा, क्योंकि वे सब एक ही जैसी बातें करते थे। यह 2018 की बात है। धीरे-धीरे मैं इस्लाम से प्रभावित होने लगी। मुझे लगने लगा कि इसमें कुछ खास है।”

इसी तरह की बातें रहमत बना दी गई श्रुति ने भी एबीपी न्यूज को बताया है। श्रुति को ग्रेजुएशन के दौरान मुस्लिम दोस्तों ने पहले इस्लामी पाठ पढ़ाया। हिंदू त्योहारों के बारे में उसे भ्रमित किया। फिर उसका धर्मांतरण करवा दिया। बता दें कि ‘द केरल स्टोरी’ के निर्देशक सुदीप्तो सेन ने भी मार्च 2022 में बताया था, “2009 के बाद केरल और मैंगलोर की लगभग 32000 लड़कियों को हिंदू और ईसाई से इस्लाम में कन्वर्ट किया गया। उनमें से ज्यादातर सीरिया, अफगानिस्तान और अन्य ISIS व हक्कानी प्रभावशाली क्षेत्र में भेज दी गईं।” सुदीप्तो को रिसर्च के दौरान यह भी पता चला कि अपहरण और तस्करी के जरिए गायब हुईं कुछ लड़कियाँ अफगानिस्तान और सीरिया की जेल में पाई गई थीं। इनमें से ज्यादातर लड़कियों की शादी ISIS के आतंकवादियों से की गई थी और उन्हें ‘सेक्स स्लेव’ बनाया गया था।

Leave a Reply