Monday, May 20, 2024
Uncategorized

खुशी परिहार हत्याकांड, मोहम्मद अशरफ शेख

खुशी परिहार नाम की एक 19 साल की लड़की अशरफ शेख को ही अपनी जिंदगी मान बैठी थी. लेकिन, खुशी को शायद इस बात का बिल्कुल भी अंदाजा नहीं था कि जिस अशरफ को वह अपनी जिंदगी समझ रही है एक दिन वही उसे दर्दनाक मौत देगा. जी हां, एक मॉडलिंग इवेंट में अशरफ से मुलाकात के बाद दोनों में दोस्ती हो गई. समय के साथ-साथ खुशी और अशरफ की दोस्ती प्यार में बदल गई. दोनों काफी समय तक एक-दूसरे के साथ लिव-इन रिलेशनशिप में भी रहे.

नागपुर की मॉडल खुशी जगदीश परिहार की मर्डर मिस्ट्री

बॉयफ्रेंड अशरफ शेख के साथ लिव-इन में रह रही थी

सीने पर गुदवाए टैटू ने खोले मॉडल मर्डर के हर राज

बॉयफ्रेंड के प्यार में लड़की ने अपना धर्म तक बदल लिया था

नागपुर में सुनसान इलाके में एक लड़की की लाश मिलती है। लड़की ने मिनी स्कर्ट, ब्लैक टीशर्ट और हाई बूट पहने हुए थे, लेकिन उसका चेहरा बिल्कुल पहचान में नहीं आ रहा था। लड़की के चेहरे को पत्थर से मार-मारकर बिगाड़ दिया गया था। कपड़ों और लड़की के स्टायल से साफ था कि लड़की किसी अच्छे घर से ताल्लुक रखती है, लेकिन लड़की की पहचान कैसे हो क्योंकि चेहरा तो कातिल ने पूरी तरह से खराब कर दिया था।

नागपुर के मॉडल का खौफनाक अंत

पुलिस ने छानबीन शुरू की। लड़की ने अपने सीने और हाथ पर दो टैटू गुदवाए हुए थे। एक टैटू में लिखा था क्वीन, जबकि दूसरे टैटू में लिखा था लव बर्ड और उसके ऊपर दो नाम लिखे गए थे। एक नाम था खुशी और दूसरा आशू। अब पुलिस को ये क्लू मिल चुका था कि लड़की का नाम खुशी है और उसका बॉयफ्रेंड आशू। लड़की ने ब्रांडड कपड़े पहने हुए थे और उन कपड़ों पर नागपुर के एक मॉल के शोरूम का नाम था। बस ये सारे सुराग काफी थे पुलिस के लिए इस हाइप्रोफाइल लड़की का केस सुलझाने के लिए।

बॉयफ्रेंड अशरफ शेख ने की थी मॉडल की हत्या

ये घटना थी जुलाई 2019 की। कुछ ही दिन की छानबीन के बाद पुलिस को लड़की का पता लग चुका था। ये लड़की थी खुशी जगदीश परिहार। नागपुर की मशहूर मॉडल। साल 2019 में हुए मिस इंडिया कॉन्टेस्ट में खुशी टॉप फाइनलिस्ट भी रही। बचपन से ही मॉडलिंग का शौक रखने वाली खुशी ने थोड़े समय पहले ही मॉडलिंग की दुनिया में कदम रखा था। वो ऊंचाइयों को छूना चाहती थी, लेकिन उसका मर्डर कर दिया गया था। उसके बेहद खूबसूरत चेहरे को पूरा बिगाड़ दिया गया था। ऐसा लग रहा था कि कातिल को उससे बेहद नरफरत है।

अशरफ के प्यार में खुशी ने बदल लिया था अपना धर्म

पुलिस ने सारे सुरागों की मदद से केस को जल्दी ही सुलझा लिया था। जिस लड़के के नाम का टैटू खुशी ने गुदवाया था वो लड़का था अशरफ शेख। खुशी और अशरफ कुछ दिनों से लिव-इन रिलेशन में रह रहे थे। मॉडलिंग के दौरान ही खुशी की अशरफ से जान पहचान हुई थी। खुशी अक्सर क्लब, डिस्कों, पब में जाती थी और अशरफ भी वहां आता था। यहीं दोनों की दोस्ती हुई। वो उससे बेहद प्यार करने लगी थी। यहां तक की खुशी ने 2019 में अशरफ के प्यार में अपना धर्म तक बदल लिया था। उसने अपना नाम खुशी से बदलकर जायरा शेख रख लिया था। वो अपने बॉयफ्रेंड को खुश करना चाहती थी, उससे शादी करना चाहती थी, लेकिन बॉयफ्रेंड के दिमाग तो पक रही थी एक अलग ही साजिश।

कत्ल के लिए खुशी को ड्राइव पर लेकर गया

पुलिस ने खुशी परिहार की हत्या के आरोप में अशरफ शेख को गिरफ्तार किया। उससे पूछताछ हुई तो अशरफ ने बताया कि उसे खुशी के कैरेक्टर पर शक था। उसे लगता था कि खुशी का उसके अलावा किसी और से भी रिलेशन है और इसलिए उसने खुशी को मौत देने की साजिश रची। 12 जुलाई 2019 के दिन वो खुशी के साथ लॉन्ग ड्राइव पर निकला। रास्ते में पहले ये दोनों एक मॉल में गए। खुशी ने मॉल से एक ब्लैक कलर की टीशर्ट खरीदी जिसे खुशी ने पहना हुआ था। इसके बाद ये लोग पांढुरना-नागपुर हाइवे की तरफ बढ़ने लगे। अशरफ पहले से ही तय कर चुका था कि वो आज खुशी को मौत के घाट उतारेगा।

टायर खोलने वाले हथियार से की हत्या

इसके बाद उसने रास्ते में टायर चेंज करने वाले हथियार टॉमी से खुशी के सिर पर चलती कार में हमला कर दिया। उसके बाद अशरफ शेख ने पत्थर लाकर खुशी के चेहरे को कुचल डाला। वो बेरहमी से कार के अंदर अपनी गर्लफ्रेंड को मार चुका था उसके बाद खुशी की लाश को वहीं फेंककर वो वहां से चल गया। उसे लगा कि खुशी का चेहरा बिगाड़ने के बाद कोई ये पहचान ही नहीं पाएगा कि लाश किसकी है, लेकिन टैटू और उस ब्लैक टीशर्ट ने पुलिस को कातिल तक पहुंचा दिया।

Leave a Reply