Tuesday, July 16, 2024
Uncategorized

मौलाना बोलता था आओ जन्नत दिखाऊँ,12 साल की बच्ची को,मस्जिद में दीनी तालीम देते देते…

12 साल की बाछी…

शामली जिले में एक मदरसे के अंदर नाबालिग छात्र से छेड़छाड़ का मामला सामने आया है। आरोपित मदरसे का मौलवी है जिसका नाम हाफ़िज़ वसीक है। आरोप है कि मौलवी 12 साल की छात्रा को झाड़ू लगाने के बहाने कमरे के अंदर भेजता था और वहाँ बच्ची से छेड़खानी की जाती थी। शिकायत करने पर लड़की के परिजनों को जान से मारने की धमकी भी दी गई है। मामले की शिकायत शुक्रवार (28 जून 2024) को की गई है। आरोपित मौलवी को गिरफ्तार कर लिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह मामला शामली के थाना क्षेत्र झिंझाना का है। यहाँ शुक्रवार (28 जून, 2024) को एक नाबालिग बच्ची के परिजनों ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। शिकायत में पीड़िता के परिजनों ने बताया है कि उनके गाँव में एक मदरसा संचालित होता है। इसी मदरसे में 12 साल की छात्रा भी दीनी तालीम हासिल करने जाया करती थी। इस मदरसे में हाफिज वसीक पर बच्चों को पढ़ाने की जिम्मेदारी डाली गई थी। आरोप है कि हाफिज वसीक पिछले ढाई महीनों से लगातार बच्ची से अश्लील हरकतें और छेड़खानी कर रहा था।

नाबालिग बच्ची के परिजनों का आरोप है कि हाफिज पीड़िता पर गंदी नजर रखता था। वह कमरे की सफाई करने के बहाने बच्ची को अलग भेज दिया करता था। बाद में वह आ कर पीड़िता को पकड़ लिया करता था। जब लड़की के परिजनों को इसकी जानकारी हुई तो उन्होंने हाफिज से उलाहना दी। बताया जा रहा है कि हाफिज ने अपनी गलती मानने के बजाय गाली-गलौज और धमकियाँ देना शुरू कर दिया। पीड़ित परिवार के लगभग आधे दर्जन बच्चे इसी मदरसे में पढ़ते हैं। खुद को बेहद गरीब बताते हुए अन्त में पीड़िता के परिजनों ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई।

मौलाना की तरफ से पीड़ित के कुछ पड़ोसियों ने भी बच्ची के परिजनों को धमकाते हुए केस वापस लेने का दबाव बनाया है। आखिरकार पीड़िता के परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने आरोपित हाफिज के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। वसीक को गिरफ्तार कर लिया गया है। शामली पुलिस के डिप्टी एसपी ने इस कार्रवाई की पुष्टि की है। पूरे मामले की जाँच के साथ अन्य जरूरी कानूनी कार्रवाई की जा रही है

Leave a Reply