Tuesday, July 16, 2024
Uncategorized

कट मुल्ले शाहरुख ने खेला लव जिहाद,बन गया यश a

कट मुल्ले का नाम शाहरुख शेख उर्फ शाहरुख

आरोपी मोहम्मद शाहरुख शेख जिसने यश जैन बनकर युवती को फंसाया।

इंदौर में एक मुस्लिम युवक ने मैनेजर पद पर काम कर रही युवती को लव जिहाद का शिकार बनाया। युवक ने जैन बनकर उससे दोस्ती की और फिर उसे शादी का झांसा दिया। अपनी मौसी के यहां पर बुलाकर कई बार उसका यौन शोषण किया। युवती को जब शक हुआ तो उसने जानकारी जुटाई। पता चला वह मुस्लिम है और शादीशुदा भी है। सच सामने आने के बाद युवती पहले चंदन नगर थाने पहुंची। यहां से उसे द्वारकापुरी थाने भेजा गया। घटनास्थल सुखलिया का होने के कारण द्वारकापुरी पुलिस ने शून्य पर कायमी करते हुए मामला हीरानगर पुलिस को सौंप दिया है। पीड़िता ने आरोपी के खिलाफ नाम बदलकर दोस्ती करने, धार्मिक पहचान छुपाने और शादी का झांसा देकर रेप करने का केस दर्ज कराया है। आरोपी फर्नीचर बनाने के काम से जुड़ा हुआ है। पीड़िता से इश्योरेंस के काम के दौरान ही आरोपी की दोस्ती हुई थी।

इंश्योरेंस के काम के दौरान हुई थी पहचान
द्वारकापुरी पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने यश जैन उर्फ मोहम्मद शाहरुख शेख पुत्र मोहम्मद रईस, निवासी डी सेक्टर, स्कीम नंबर 71 के खिलाफ रेप का केस दर्ज किया है। पीड़िता के प्रकरण पर अग्रिम कार्रवाई के लिए मामला हीरा नगर पुलिस को सौंपा गया है। पीड़िता ने बताया कि एक साल पहले इंश्योरेंस के काम के चलते आरोपी ने उसकी पहचान हुई। आरोपी ने उसे अपना नाम यश जैन बताया। इसके बाद दोनों के बीच मोबाइल पर बातचीत और चैटिंग होने लगी। यश ने पीड़िता से कहा कि वह उसे लेकर सीरियस है और शादी करना चाहता है। पीड़िता ने उस पर यकीन कर लिया और दोनों मिलने लगे।

मौसी के यहां बुलाकर करता था यौन शोषण
यश ने पीड़िता से एमआर-10, सुखलिया इलाके में अपनी मौसी के यहां मिलना शुरू किया। इस दौरान शादी की बात करते हुए उसने युवती से तीन से चार बार संबंध भी बनाए। 15 अप्रैल को दोपहर में यश फिर से पीड़िता की मौसी के यहां मिला। पीड़िता को शंका हुई कि यश उससे कुछ छिपा रहा है। उसने जानकारी निकाली तो पता चला कि उसका असली नाम शाहरुख है। उसका एक घर नया पीठा चंदन नगर में भी है। इसके बाद पीड़िता हकीकत पता करने के लिए नया पीठा स्थित आरोपी के घर पहुंची और उसके परिवार के लोगों से बात की। यहां उसे पता चला की वह पहले से शादीशुदा है। इसके बाद पीड़िता ने अपने परिवार को पूरे मामले में जानकारी दी। परिवार वालों के साथ थाने जाकर पीड़िता ने केस दर्ज करवाया।

Leave a Reply