Thursday, February 22, 2024
Uncategorized

कांग्रेस महिला पार्षद की हत्या की मोहम्मद समीर खान ने,राहुल गांधी प्रियंका गांधी का इंतजार

राहुल गांधी प्रियंका गांधी की प्रतीक्षा

जयपुर: 25 दिसंबर को, राजस्थान के बीकानेर की एक महिला की समीर खान नामक व्यक्ति ने बेरहमी से हत्या कर दी। आरोपी पीड़िता के यहां ड्राइवर के रूप में कार्यरत था, जो पूर्व कांग्रेस पार्षद थी। खान ने पूर्व कांग्रेस पार्षद का गला काट दिया और बाद में आत्महत्या करने का प्रयास किया। हालांकि बाद में पता चला कि आरोपी ने पुलिस कार्रवाई से बचने के लिए हत्या के तुरंत बाद आत्महत्या का नाटक किया था। 

रिपोर्ट के अनुसार, यह मामला बीकानेर के नया शहर थाना इलाके का है। पूर्व पार्षद लक्ष्मी पुरोहित का घर के पास ही ब्यूटी पार्लर था। लक्ष्मी सोमवार (25 दिसंबर) शाम को यह कहकर घर से निकली थी कि वह मंदिर जा रही है, लेकिन वापस नहीं लौटी। रात करीब 10 बजे महिला के पति राजेश पुरोहित ने थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। इसी बीच गंगानगर रोड पर महिला का शव मिला। पुलिस ने महिला की पहचान के लिए राजेश पुरोहित को बुलाया था। बाद में शव की पहचान लक्ष्मी के रूप में की गई। मृतक महिला के पति राजेश पुरोहित ने मामले में शिकायत दर्ज कराई और समीर खान को संदिग्ध बताया। पुरोहित ने कहा कि खान, लक्ष्मी पर गंदी नज़र रखता था और वह उससे शादी करना चाहता था।

पुलिस जांच में पता चला कि समीर खान 47 साल की लक्ष्मी को पहले से जानता था, क्योंकि वह 6 साल पहले उसके ड्राइवर के रूप में काम कर चुका था। लक्ष्मी के पति राजेश पुरोहित शिक्षा विभाग में सरकारी नौकरी करते हैं। उन्होंने छह साल पहले एक कार खरीदी थी और समीर खान को अपने ड्राइवर के रूप में काम पर रखा था। पहले तो सब ठीक था, लेकिन बाद में उसके दुर्व्यवहार की शिकायतें सामने आने लगीं और उसने लक्ष्मी पुरोहित को परेशान करना शुरू कर दिया। नतीजा यह हुआ कि कुछ साल पहले उसे नौकरी से निकाल दिया गया। हालाँकि, समीर खान ने फिर परिवार को परेशान करना शुरू कर दिया और वह कांग्रेस नेत्री के परिवार को धमकी देता था। वह उनके घर आता था और उनके साथ बदसलूकी किया करता था। वह राजेश पुरोहित को भी फोन कर धमकी देता था कि वह उसकी पत्नी को उठा ले जाएगा।

राजेश ने बताया कि सोमवार की शाम उसकी पत्नी मंदिर जाने की बात कहकर घर से निकली थी। लेकिन जब वह एक घंटे तक नहीं लौटी तो उसे चिंता होने लगी। जब उसने उसे फोन किया तो पता चला कि उसका फोन बंद है। फिर उसने मंदिर सहित आसपास के इलाकों में उसकी तलाश शुरू की और रिश्तेदारों से पूछताछ की। जब वह नहीं मिली तो वह शिकायत दर्ज कराने के लिए पुलिस स्टेशन पहुंचे। राजेश पुरोहित ने आरोप लगाया कि समीर खान ने उनकी पत्नी का अपहरण कर लिया है, क्योंकि वह लगातार उन्हें परेशान कर रहा था और कई बार धमकी दे चुका था कि वह लक्ष्मी को उठा ले जाएगा।

पुलिस जांच के दौरान पता चला कि समीर ने लक्ष्मी को उरमूल सर्किल पर बुलाया था, जहां किसी बात पर उनकी बहस हो गई। इसके बाद वह लक्ष्मी को सुनसान जगह आरसीपी कॉलोनी में ले गया। माना जा रहा है कि उसी स्थान पर उसने हत्या की और फिर शव को फेंक दिया। एसएम तेजस्वीनी गौतम ने बताया कि पूछताछ में समीर ने कई बातें कबूल की हैं। उसका मानना था कि लक्ष्मी उससे निकाह करेगी और इसी मुद्दे पर बहस चल रही थी। जब उसे पता चला कि लक्ष्मी का उससे निकाह करने का कोई इरादा नहीं है, तो उसने कांग्रेस नेत्री का गला काट दिया। उसने उस पर इतनी जोर से हमला किया कि घाव 2 इंच गहरा हो गया। पुलिस के मुताबिक हत्या रात 8 से 9 बजे के बीच हुई।

लक्ष्मी का गला काटने के बाद समीर खान मौके से फरार हो गया और आत्महत्या करने की कोशिश की। इसके बाद वह हाथ और सिर में चोट के साथ पीबीएस अस्पताल पहुंचे। लेकिन इलाज में देरी होने पर आरोपी समीर खान ने अस्पताल में हंगामा शुरू कर दिया। इसके बाद जब पुलिस अस्पताल पहुंची तो उसने झूठी कहानी सुनाई और दावा किया कि वह ट्रेन की चपेट में आ गया है। लेकिन जब पुलिस को ट्रेन से टकराने की कोई सूचना नहीं मिली तो उन्होंने आरोपी हिरासत में ले लिया और सख्ती से पूछताछ की।

पुलिस ने कहा कि उससे अभी भी पूछताछ की जा रही है और हत्या में इस्तेमाल हथियार बरामद नहीं हुआ है। लक्ष्मी पुरोहित और उनके पति राजेश पुरोहित राजस्थान के नागौर के मूल निवासी हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, नागौर में रहते हुए लक्ष्मी ने कांग्रेस के टिकट पर नगर परिषद चुनाव लड़ा था और पार्षद बनीं थीं। इसके बाद लक्ष्मी और उनके पति बीकानेर चले गए। नागौर से बीकानेर आने पर लक्ष्मी का राजनीतिक करियर लगभग खत्म हो गया था। वहीं, इस मामले को लेकर सोशल मीडिया पर लोग सवाल उठा रहे हैं कि, अक्सर महिला रक्षा का दावा करने वाले कांग्रेस नेता राहुल गांधी या प्रियंका गांधी क्या अपनी पूर्व पार्षद को न्याय दिलाने के लिए आवाज़ उठाएंगे, या क्या उसके परिवार को ढांढस बंधाने जाएंगे ?

Leave a Reply