Friday, September 22, 2023
Uncategorized

इतिहास की सबसे बड़ी छापेमारी,40 हज़ार करोड़ की ड्रग्स जब्त,दाऊद गैंग पाकिस्तानी ISI

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने भारतीय समुद्री क्षेत्र में 40,000 करोड़ रुपए के प्रतिबंधित ड्रग्स जब्त करने में सफलता पाई हैं। NCB के डिप्टी डायरेक्टर जनरल (ऑप्स) संजय कुमार सिंह ने शनिवार (13 मई) को जानकारी दी है कि NCB और भारतीय नौसेना ने हिन्द महासागर में एक बड़ा ऑपरेशन चलाया, जिसमें कीमत के मामले में अब तक की सबसे बड़ी ड्रग्स जब्ती की गई। रिपोर्ट के अनुसार, बरामद किए गए ड्रग्स का सोर्स पाकिस्तान है और ये ईरान के चाबहार बंदरगाह के जरिए यहाँ पहुंचे थे।

बता दें कि, इससे पहले, NCB ने शनिवार को एक स्पेशल ऑपरेशन में केरल के कोच्चि तट के पास से करीब 40,000 करोड़ रुपए कीमत के करीब 2,500 किलो ड्रग्स जब्त किए हैं। संजय कुमार ने जानकारी दी कि मदर शिप को समुद्र में कई स्थानों पर तैनात किया गया था। विभिन्न देशों से छोटी नावें मदर शिप तक पहुंचती थी और वहां से ड्रग्स लेकर अपने देश में लौट जाती थीं। ड्रग्स की यह खेप श्रीलंका, मालदीव और भारत में सप्लाई होने वाली थी। इस कार्रवाई में एक पाकिस्तानी नागरिक को भी अरेस्ट किया गया है।

NCP अफसर संजय कुमार ने बताया कि हमने फरवरी 2022 में ऑपरेशन समुद्रगुप्त आरम्भ किया था। जिसके तहत टीम ने अब तक  अलग-अलग तरह के करीब 4000 किलो प्रतिबंधित ड्रग्स जब्त किए हैं। इस ऑपरेशन में सबसे पहले फरवरी 2022 में NCB और भारतीय नौसेना की संयुक्त टीम ने गुजरात के तट से 529 किलो हशीश, 221 किलो मेथामफेटामाइन और 13 किलो हेरोइन बरामद की थी। ड्रग्स को बलूचिस्तान और अफगानिस्तान से भारत लाया गया था। एक संदिग्ध पाकिस्तानी नागरिक को भी गिरफ्तार किया गया था। इसके बाद अक्टूबर 2022 में संयुक्त टीम ने केरल के तट पर एक ईरानी बोट को रोका था, जिसमें से कुल 200 किलो हाई ग्रेड हेरोइन मिली थी। इस ऑपरेशन में 6 ईरानी ड्रग तस्करों को अरेस्ट भी किया गया था।

एनसीबी ने बरामद किये गए ड्रग्स का कनेक्शन अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम से जुड़ा हुआ पाया.

नई दिल्ली. एनसीबी ने 40 हजार करोड़ रुपये के ड्रग्स बरामदगी मामले में अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम और पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई का कनेक्शन निकाला है. एनसीबी के अधिकारी के मुताबिक 40 हजार करोड़ का ड्रग्स बरामद किया है, जो कि अंडरवर्ल्ड डॉन दाउद इब्राहिम और पाकिस्तान ISI से जुड़े हुए हैं. न्यूज18 इंडिया से बात करते हुए  NCB के DDG ऑपरेशन संजय सिंह ने जानकारी दी. उन्होंने बताया कि ऑपरेशन समुद्रगुप्त के तहत बरामद करीब 40 हजार करोड़ की ड्रग्स के तार पाकिस्तान ISI, अंडरवर्ल्ड डॉन दाउद इब्राहिम से जुड़े पाए गए हैं.

बता दें कि कराची में बैठा पाकिस्तान ISI का सबसे बड़ा ड्रग्स माफिया और करीबी हाजी सलीम है. बरामद ड्रग्स के पैकेट जो पाकिस्तान में पैकिंग हुए उसमे हाजी दाऊद एंड &sons लिखा है. हाजी सलीम दाऊद इब्राहिम पाकिस्तान ISI के बीच की अहम कड़ी है. संजय सिंह ने बताया कि पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री ने ड्रग्स का ये मसला उठाया था. हाजी सलीम ईरान, अफ़ग़ानिस्तान और बलूचिस्तान (पाकिस्तान) से ड्रग्स सिंडिकेट को ऑपरेट करता है. हाजी सलीम कराची से ऑपरेशन देखता है, जो बेहद तेज दिमाग का माना जाता है.

एजेंसी के अधिकारियों के मुताबिक हाजी सलीम के बॉडीगार्ड्स कराची में एके-47 और अन्य घातक हथियार से लैस रहते हैं. इंटरनेशनल सूत्रों के मुताबिक हाजी सलीम कई बार कराची में स्थित किल्फ्टन रोड दाउद के ठिकाने पर ड्रग्स कारोबार की मीटिंग करने आता-जाता रहा है. सलीम अपने साथ कुछ सैटेलाइट फ़ोन भी रखता है, जिसके जरिए वो पाकिस्तान से लेकर मालदीव के समुद्री इलाकों तक अपना ऑपरेशन ऑपरेट करता है.

 

सलीम बलोच हेरोइन में डील करता है और अपने सप्लायर्स से ड्रग्स के बदले आने वाला पैसा हवाला के जरिए लेता है. सलीम बलोच ख़ास क़िस्म के कोड वर्ड का इस्तेमाल करता है ताकि उसका नाम सीधे तौर पर किसी एजेसी के रडार पर न आए. हाजी सलीम हेरोइन ,मैथ फेटामाईंन और हशीश के कारोबार से जुड़ा है. अफगानिस्तान में बनने वाली हेरोइन दूसरी ड्रग्द ईरान के रास्ते पाकिस्तान आ रही है. बता दें कि भारतीय नौसने की खुफिया इकाई और एनसीबी ने एक संयुक्त अभियान में अरब सागर में अब तक का सबसे बड़ा ड्रग्स क्नसाइनमेंट पकड़ा है.

नौसेना और एनसीबी ने अरबी समुद्र में 2600 किलोग्राम ड्रग्स जब्त की है. बरामद किये गए ड्रग्स की अंतरराष्ट्रीय बाजार के हिसाब से कीमत तकरीबन 12 हजार करोड़ रुपये बताई जा रही है. मीडिया रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि जब्त की गई ड्रग्स ईरान से आ रही थी. जिसे गुजरात में बंदरगाह पर पहुंचने से पहले ही इस ड्रग्स को जब्त कर लिया गया. 2600 किलो ड्रग्स के साथ पकड़े गए आरोपी को कोची के बंदरगाह ने जाया गया, जहां एनसीबी और नौसेना मामले में आगे की जांच शुरू करेगी

 

Leave a Reply