Tuesday, May 28, 2024
Uncategorized

कन्हैया कुमार की मां बहन हुई ,बिहार के बाद दिल्ली में,कांग्रेसी परेशान टुकड़े गैंग से

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव 2024 के लिए दिल्ली की 7 सीटों पर 25 मई को वोट डाले जाएंगे। चुनाव में अब कुछ दिनों का समय बचा है, मगर कांग्रेस पार्टी में नेताओं का आपसी झगड़ा खत्म होने का नाम नहीं ले रहा। कांग्रेस पार्टी आलाकमान ने उत्तर पूर्वी दिल्ली सीट से कन्हैया कुमार को अपना प्रत्याशी बनाया है। इसे लेकर पार्टी की दिल्ली यूनिट में खींचतान बढ़ गई है। बीजेपी ने उत्तर पूर्वी दिल्ली से मनोज तिवारी को एक बार फिर मौका दिया है।

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस पार्टी की ओर से कन्हैया कुमार की उम्मीदवारी को लेकर उत्तर पूर्वी जिले के पूर्व विधायकों एवं पदाधिकारियों की बैठक बुलाई गई थी, जिसमें दिल्ली कांग्रेस पार्टी प्रभारी दीपक बाबरिया भी सम्मिलित थे। मगर यह बैठक बेनतीजा निकली। सूत्रों के अनुसार, बैठक के चलते दिल्ली कांग्रेस पार्टी के कुछ नेताओं एवं कन्हैया कुमार के बीच तीखी बहस हुई। बात इतनी बिगड़ गई कि एक नेता ने कन्हैया कुमार को गलत शब्द तक बोल डाले। हालांकि, बैठक में दिल्ली कांग्रेस पार्टी के नेताओं एवं कन्हैया कुमार के बीच बहस वाली बात को प्रभारी दीपक बाबरिया ने खारिज किया। मगर सूत्रों के अनुसार, पहले AAP के साथ गठबंधन एवं अब कन्हैया कुमार की उम्मीदवारी को लेकर, दिल्ली कांग्रेस पार्टी में सबकुछ सामान्य नहीं चल रहा। दरअसल, नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली सीट से कांग्रेस पार्टी आलाकमान ने जबसे कन्हैया कुमार को टिकट दिया है, तब से कांग्रेस पार्टी के क्षेत्रीय नेता उनकी उम्मीदवारी को लेकर कई प्रकार की बयानबाजी करने से पीछे नहीं रह रहे। बगावत की स्थिति को संभालने के लिए दिल्ली कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष अरविंदर सिंह लवली ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली के जिलाध्यक्षों एवं पूर्व विधायकों की बैठक बुलाई थी।

दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के पुत्र संदीप दीक्षित भी बैठक में पहुंचे थे। वह मंच पर न जाकर पूर्व विधायकों एवं पदाधिकारियों के बीच बैठ गए। अरविंदर सिंह लवली ने संदीप दीक्षित को मंच पर बैठने के लिए बोला, मगर उन्होंने मना कर दिया। तब कन्हैया कुमार ने उनसे मंच पर आने के लिए कहा, जिस पर संदीप दीक्षित भड़क गए। सूत्रों के अनुसार, उन्होंने बैठक के चलते बोला कि कन्हैया कुमार की उम्मीदवारी से कांग्रेस पार्टी को नॉर्थ-ईस्ट सीट के अतिरिक्त दिल्ली की अन्य सीटों पर भी भारी हानि होने वाला है। इस पर कन्हैया कुमार ने पलटवार करते हुए संदीप दीक्षित से बोला कि वह बीजेपी की भाषा बोल रहे हैं। इतना सुनते ही दीक्षित भड़क गए। सूत्रों की मानें तो उन्होंने कन्हैया कुमार को गलत शब्द कह डाले। तत्पश्चात, दीपक बाबरिया और संदीप दीक्षित के बीच भी बहस हो गई और बैठक का कुछ रिज़ल्ट नहीं निकला। फिर कन्हैया कुमार वहां से निकल गए। हालांकि, दिल्ली कांग्रेस पार्टी प्रदेश अध्यक्ष अरविंदर सिंह लवली ने बोला कि बैठक सातों सीटों पर चुनाव प्रचार की गति को तेज करने और नयी रूपरेखा तैयार करने के लिए बुलाई गई थी। बैठक में तीनों लोकसभा सीटों (AAP के साथ सीट बंटवारे में कांग्रेस पार्टी दिल्ली की तीन सीटों पर लड़ रही है) पर कांग्रेस पार्टी कार्यकर्ताओं को जिम्मेदारी सौंपी गई है।

Leave a Reply