Thursday, February 22, 2024
Uncategorized

100 नाम फाइनल

 

विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी कांग्रेस अब जल्द ही अपने 100 कैंडिडेट की लिस्ट जारी करने वाली है। प्रत्याशियों के नाम को लेकर आज कांग्रेस का होमवर्क पूरा हो जाएगा। कांग्रेस ने तीन सर्वे कराए हैं। इन तीनों सर्वे में जिन सीटों पर प्रत्याशियों के कॉमन नाम मिलेंगे उनका टिकट फाइनल कर दिया जाएगा। तीनों सर्वे को कांग्रेस ने पहले ही मैच कर लिया है। आज नामों की स्क्रूटनी करवा कर कमलनाथ दिल्ली भेजेंगे।

कांग्रेस के तीन सर्वे में सामने आए उम्मीदवार के लिए सबसे बेहतर नाम और जिला अध्यक्ष, जिला प्रभारियों द्वारा दिए गए दावेदारों के नाम यदि मैच हुए तो इनका टिकट लगभग तय माना जा रहा है। कांग्रेस ऐसे नामों को आज छांट कर दिल्ली भेजेगी। कमलनाथ आज भोपाल में हैं। वे इस तरह के नामों की स्क्रूटनी करवा रहे हैं।  इसके बाद यह लिस्ट दिल्ली भेजी जाएगी, जहां पर स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक और केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में रखा जाएगा। इसके बाद इन नामों पर मुहर लग सकती है। कांग्रेस ने प्रत्याशी चयन को लेकर में तीन सर्वे कराए हैं। इसमें से एक सर्वे राहुल गांधी की तरह से सुनील कानूगोलू ने किया है। जबकि दो सर्वे कमलनाथ ने प्रायवेट एजेंसियों से करवाएं हैं। इन तीनों सर्वे में कई सीटों पर एक ही व्यक्ति का नाम जीत के लिए सामने आया है। इन तीनों सर्वे को कांग्रेस ने पहले से ही मैच कर रखा है।

सीटिंग एमएलए और हारी हुई सीट भी शामिल
बताया जाता है कि इन सब में मिलाकर लगभग सौ सीटों पर उम्मीदवार का ऐलान कांग्रेस जल्द कर देगी। तीनों सर्वे और स्क्रीनिंग कमेटी के पास आए नामों में करीब सौ नाम ऐसे हैं जो जीत के लिए सबसे प्रबल माने जा रहे हैं। जिसमें कुछ विधायक भी हैं, जबकि कुछ हारी हुई सीटें पर कांग्रेस के दावेदार भी शामिल हैं। इसलिए ऐसा माना जा रहा है कि कांग्रेस की जो पहली सूची आएगी उसमें लगभग सौ उम्मीदवारों का ऐलान हो सकता है। जिसमें तीस से चालीस सीटिंग एमएलए के नाम हो सकते हैं, जबकि बाकी हारी हुई सीटों पर उम्मीदवारों के नाम होंगे।

नाथ आज भोपाल में, करेंगे होमवर्क
कमलनाथ आज छिंदवाड़ा से भोपाल आ गए हैं। वे ऐसे नामों को स्क्रूटनी करेंगे, जो तीनों सर्वे और जिला अध्यक्ष एवं प्रभारियों की सूची में जीत की प्रबल संभावना वाले हैं। इन नामों को बुधवार को ही दिल्ली भेजा जा सकता है, ताकि अगले सप्ताह होने वाली स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक में इन पर चर्चा हो सके और इस कमेटी से केंद्रीय चुनाव समिति को ये नाम भेजे जा सकें।

बायोडाटा पहुंच रहा मोबाइल एप में
इस बार कांग्रेस ने दावेदारों को लेकर अपना एक मजबूत सिस्टम बनाया है, ताकि उनके बॉयोडाटा किसी से भी मिस नहीं हो सकें। इसक लिए कमलनाथ ने एक एप बनाया है। पीसीसी या पीसीसी चीफ कमलनाथ के बंगले या ई-मेल पर जिसने भी बॉयोडाटा भेजा उनके बॉयोडाटा को एप में सेव कर दिया गया है। यह मोबाइल एप्लिकेशन स्क्रीनिंग कमेटी के चेयरमैन भंवर जितेंद्र सिंह और सदस्यों के पास भी हैं। स्क्रीनिंग कमेटी के सामने जैसे ही कोई दावेदार ने अपना और सीट का नाम बताया, वैसे ही एप्लिेकशन ओपन कर उनकी पूरी जानकारी सामने आ जाती है। तीनों सर्वे में जो सिंगल नाम जीत की सबसे ज्यादा संभावना के लिए सामने आया है। उन नामों को जिला अध्यक्ष और जिला प्रभारियों ने जो नाम स्क्रीनिंग कमेटी के सामने दिए हैं, उनसे मिलान करना है। यदि जिला अध्यक्ष और प्रभारियों ने जो पैनल दिया है और बाद में कमेटी के सामने जिस नाम पर जीत के लिए सबसे ज्यादा दावा किया है। ऐसे दावेदारों के नाम फाइनल कर लिए जाएगें।

 

Leave a Reply