Monday, April 22, 2024
Uncategorized

केजरीवाल ने हरियाणा में कांग्रेस से दूरी बनाई, कोई गठबंधन नही कांग्रेस से,कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ में सबको नकारा

केजरीवाल ने कहा हरियाणा
कांग्रेस बोली छत्तीसगढ़

2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले केंद्र की मोदी सरकार से टक्कर लेने के लिए बनाए गए विपक्षी दलों के  I.N.D.I.A. गठबंधन में फूट पड़ती हुई नजर आ रही है. साल के आखिर में 5 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस की ओर से गठबंधन को लेकर बड़ा बयान आया है. छत्तीसगढ़ कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष दीपक बैज ने यह बयान दिया है.

दीपक बैज ने कहा है कि छत्तीसगढ़ में कांग्रेस इंडिया गठबंधन से मुक्त है. यहां कांग्रेस विधानसभा चुनाव अकेले लड़ेगी.  विधानसभा चुनाव को लेकर कोई गठबंधन नहीं है. इंडिया गठबंधन लोकसभा चुनाव के लिए है. बैज ने आगे कहा कि मोदी सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए इंडिया गठबंधन बनाया गया है. पीएम के दौरे को लेकर प्रदेश अध्यक्ष दीपक बैज ने कहा कि भाजपा को सत्ता चाहिए. आज तक पीएम कभी छत्तीसगढ़ नहीं आए.
केंद्र सरकार बर बरसे बैज
दीपक बैज ने आगे बोलते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने छत्तीसगढ़ की योजनाओं का पैसा अटकाने का काम किया है. अब सत्ता के लिए दौरा कर रहे हैं. बैज ने कहा कि पीएम को एक बार मणिपुर और हरियाणा भी जाना चाहिए. रेल रोको अभियान पर दीपक बैज बोले कि रेल रोको अभियान कांग्रेस पूरे छत्तीसगढ़ में कर रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार छत्तीसगढ़ से गुजरने वाली ट्रेन बंद कर रहे हैं. प्रदेश की गरीब जनता इससे प्रभावित है. इसलिए इस मुद्दे को लेकर कांग्रेस पार्टी 13 तारीख को रेल रोको आंदोलन 1 घंटे के लिए पूरे प्रदेश में करेगी.
आज छत्तीसगढ़ का संकल्प शिविर
इस अलावा कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि 39 विधानसभा सीटों पर संकल्प शिविर हो चुका है. आज तीन विधानसभा जांजगीर शक्ति और अकलतरा में होगा. बहुत जल्द 90 विधानसभा कंप्लीट हो जाएगा. यहां कार्यकर्ताओं से हमारी बातचीत हो रही है. छत्तीसगढ़ कांग्रेस आज सक्ती जिले में कांग्रेस के संकल्प शिविर का आयोजन करने जा रही है. इस संकल्प शिविर में कांग्रेस के कई बड़े नेता शामिल होंगे. इस आयोजन में उप मुख्यमंत्री टीएस सिंह देव भी शामिल हो सकते हैं. इस दौरान पीसीसी चीफ दीपक बैज कार्यकर्ताओं को जीत का चुनावी मंत्र देगें.

 

हरियाणा का हाल

केजरीवाल के खास और आप पार्टी के संगठन महासचिव
संदीप पाठक ने अपने वक्तव्य में यह भी कहा कि हरियाणा में सर्कल लेवल तक हमारा संगठन बन चुका है और आने वाले समय में गांव-गांव तक हमारी कमेटी बन जाएगी. इसके बाद हम अपने कैंपेन की आरंभ करेंगे.

विपक्षी दलों द्वारा बनाए गए इण्डिया गठबंधन में सब कुछ ठीक-ठाक नहीं लग रहा है. सभी पार्टियों ने इस बात का घोषणा किया है कि वे बीजेपी के विरुद्ध मिलकर लड़ाई लड़ेंगे. लेकिन जमीनी स्तर पर सभी अपनी रणनीति को मजबूत करने में जुटे हुए हैं. इन सब के बीच आम आदमी पार्टी ने हरियाणा को लेकर बड़ा घोषणा कर दिया है. आम आदमी पार्टी ने घोषणा किया है कि हरियाणा विधानसभा चुनाव में पार्टी अपने दम पर मैदान में उतरेगी. आप के संगठन महासचिव संदीप पाठक ने इसकी पुष्टि की. उन्होंने बोला कि उनकी पार्टी विधानसभा चुनाव में अकेले ही लड़ेगी और वह किसी अन्य दल के साथ सीट शेयर नहीं करेगी. इतना ही नहीं, संदीप पाठक में यह भी कह दिया कि हरियाणा में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं और आम आदमी पार्टी एक नेशनल पार्टी है और हम सभी राज्यों में अपना संगठन बना रहे हैं.
संदीप पाठक ने अपने वक्तव्य में यह भी कहा कि हरियाणा में सर्कल लेवल तक हमारा संगठन बन चुका है और आने वाले समय में गांव-गांव तक हमारी कमेटी बन जाएगी. इसके बाद हम अपने कैंपेन की आरंभ करेंगे. संदीप पाठक ने दावा किया कि हरियाणा की जनता परिवर्तन के लिए उत्सुक है. हम हरियाणा में अच्छा करेंगे. इसके साथ ही उन्होंने बोला कि निश्चित रूप से ही हम सभी सीटों पर अकेले विधानसभा चुनाव मैदान में उतरेंगे. संदीप पाठक का यह बयान ऐसे समय में आया है जब 13 सितंबर को इण्डिया गठबंधन की कोआर्डिनेशन कमेटी की बैठक होने वाली है. संदीप पाठक ने इसको लेकर बोला कि लोकसभा चुनाव को लेकर जो पार्टनरशिप हुई ,है उसी से जुड़ी अगली मीटिंग है.

उदयनिधि के बयान पर पार्टी का पक्ष

आम आदमी पार्टी (आप) के नेता राघव चड्ढा ने सनातन धर्म पर द्रविड़ मुनेत्र कषगम (द्रमुक) नेता उदयनिधि स्टालिन की टिप्पणी की मंगलवार को आलोचना की, साथ ही यह भी बोला कि किसी भी पार्टी के कुछ ‘‘छोटे’’ नेताओं द्वारा दिए गए बयानों को विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ का आधिकारिक रुख नहीं बताया जा सकता है. चड्ढा ने कहा, ‘‘मैं सनातन धर्म से हूं. मैं ऐसे बयानों की आलोचना और विरोध करता हूं. इस तरह के बयान नहीं दिए जाने चाहिए. किसी को भी धर्म पर ऐसी टिप्पणी करने से बचना चाहिए. हमें सभी धर्मों का सम्मान करना चाहिए.’’ बीजेपी (भाजपा) इस मामले को लेकर ‘इंडिया’ गठबंधन पर हमलावर है. बीजेपी ने मंगलवार को विपक्षी गठबंधन पर वोट बैंक की राजनीति के लिए सनातन धर्म को निशाना बनाने का छिपा हुआ ‘‘एजेंडा’’ चलाने का इल्जाम लगाया.

 

Leave a Reply