Thursday, February 22, 2024
Uncategorized

राहुल गांधी ने कोशिश की लालीपाप खिलाने किक

बिहार में राजनीतिक घटनाक्रम पल-पल बदल रहा है। जहाँ नीतीश कुमार इस्तीफा देने की तैयारी कर रहे हैं और शनिवार (27 जनवरी, 2024) को शाम 7 बजे जदयू के विधायक दल की बैठक बुलाई गई है, जिसमें इस्तीफे के फैसले पर अंतिम मुहर लग जाएगी। अगले ही दिन शपथग्रहण भी हो जाएगा, ऐसा मीडिया में चल रहा है। उधर अब खबर आई है कि कॉन्ग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी ने बिहार के मुख्यमंत्री रहे जीतन राम माँझी को फोन कॉल किया है।

राहुल गाँधी ने ‘हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (सेक्युलर)’ के अध्यक्ष माँझी को बिहार का मुख्यमंत्री बनाने का ऑफर दिया है। HAM के पास 4 विधायक हैं, जबकि जबकि राजद के पास 79 और कॉन्ग्रेस के 19 विधायक हैं। वैसे तो भाजपा और जदयू मिल जाएँ तो बहुमत का आँकड़ा आसानी से पार हो जाता है। बिहार में बहुमत के लिए 122 विधायक चाहिए, भाजपा-जदयू के पास इससे एक ज़्यादा हैं। लेकिन, वामपंथी दलों के 16 विधायकों और HAM को जोड़ कर राजद-कॉन्ग्रेस सरकार बनाने की जुगत में है।

यही कारण है कि पहले लालू यादव ने जीतन राम माँझी को डिप्टी CM बनाने का ऑफर दिया था, अब उन्हें सीधा मुख्यमंत्री बनाने का ऑफर दिया जा रहा है। हालाँकि, ये तभी संभव है जब जदयू के विधायकों में से एकाध वोटिंग से अनुपस्थित रहे जाएँ। उधर पूर्णिया में होने वाली कॉन्ग्रेस विधायक दल की बैठक टाल दी गई है, क्योंकि पार्टी के सभी विधायक तय समय पर पहुँचे ही नहीं। अब ये बैठक अगले दिन होगी। उधर ‘जमीं के बदले नौकरी’ घोटाले में कोर्ट ने पूर्व सीएम राबड़ी देवी को समन भेजा है।

कोर्ट ने व्यवसायी अमित कात्याल के खिलाफ प्रोडक्शन वॉरंट भी जारी किया है, जो पहले से ही न्यायिक हिरासत में हैं। जीतन राम माँझी I.N.D.I. गठबंधन में आने के न्योते पर क्या फैसला लेते हैं, इस पर सभी की निगाहें टिकी हैं। AIMIM, HAM और एक निर्दलीय को मिला कर राजद-कॉन्ग्रेस-लेफ्ट गठबंधन 120 के आँकड़े को छू सकता है। राजद राज्यपाल को समर्थन-वापसी का पत्र देने का भी विचार कर रही है, क्योंकि उसे आशंका है कि नीतीश कुमार विधानसभा भंग कर सकते हैं। राजद सरकार बनाने का दावा पेश करेगी।

उधर RJD नेता तेजस्वी यादव ने कहा है कि बिहार में अभी खेला होना बाकी है, उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार आदरणीय थे और हैं, कई चीजें उनके नियंत्रण में नहीं हैं। वहीं अब कॉन्ग्रेस व राजद नेताओं ने भी महागठबंधन के टूटने की बातें स्वीकार करना शुरू कर दिया है।

Leave a Reply