Tuesday, May 28, 2024
Uncategorized

हिन्दू बनकर लड़की फंसाई, फिर अब्बा ने चाचा ने,मामू ने,पूरे जिहादियों ने किया,गैंगरेप

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले से लव जिहाद का एक नया मामला सामने आया है। नेपाल की रहने वाली एक लड़की ने अब्दुल सलाम पर हिन्दू बनकर उससे शादी करने और बाद में इस्लाम कबूलने का दबाव डालने का आरोप लगाया है। पीड़िता ने जबरन मांस खिलाने का भी आरोप लगाया है। पुलिस ने 6 नामजद और 2 अज्ञात के खिलाफ FIR दर्ज करके अब्दुल सलाम को गिरफ्तार कर लिया है।

यह मामला मुज़फ्फरनगर जिले के थाना क्षेत्र बुढ़ाना का है। यहाँ नेपाल के कपिलवस्तु जिले की रहने वाली एक 26 वर्षीया हिंदू लड़की ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है। शिकायत में पीड़िता ने बताया कि वह साल 2015 से दक्षिण दिल्ली के सुल्तानपुर में रह रही थी। उस समय वह नाबालिग थी। यहीं पर उसे अब्दुल सलाम मिला था। उसने अपना नाम अजय बताया था।

पीड़िता ने बताया कि अजय ने उससे दोस्ती की और प्यार का नाटक करने लगा। बाद में उसने शादी का झाँसा देकर नाबालिग की उम्र में उसके साथ रेप किया। पीड़िता का कहना है कि दूसरे देश से आने और अकेली रहने की वजह से पीड़िता अजय बने अब्दुल सलाम की इस हरकत का विरोध नहीं कर पाई। उसकी मजबूरी का फायदा उठाकर अब्दुल सलाम ने उससे कई बार रेप किया।

पीड़िता ने आगे बताया कि बार-बार की रेप की वजह से वह कई गर्भवती भी हुई, लेकिन अब्दुल ने उसका हर बार गर्भपात करवा दिया। पीड़िता ने उस पर शादी का दबाव बनाया तो अब्दुल सलाम ने 6 अगस्त 2019 को दिल्ली के एक आर्य समाज मंदिर में उससे शादी कर ली। इस शादी में पीड़िता से कोरे कागज पर दस्तखत करवाए गए। साल 2021 में पीड़िता एक बेटी की माँ बनी।

पीड़िता का कहना है कि जब वह अस्पताल में भर्ती हुई तो उसे पता चला कि अजय वास्तव में अब्दुल सलाम है और मुस्लिम है। तब अब्दुल सलाम ने पीड़िता और उसकी बेटी की हत्या की धमकी देकर मुँह बंद रखने को कहा। बेटी के जन्म के 7 महीने बाद अब्दुल सलाम पहली बार पीड़िता को अपने गाँव ले गया। जौला नाम का यह गाँव मुजफ्फरनगर के थाना क्षेत्र बुढ़ाना में पड़ता है।

ऑपइंडिया के मौजूद FIR की कॉपी के मुताबिक, यहाँ अब्दुल के अलावा उसके अब्बा इदरीस, भाई आसिफ एवं आमिल, मामा और 2 बहनोई ने पीड़िता से बारी-बारी से रेप किया। विरोध करने पर पीड़िता और उसकी बेटी की हत्या की धमकी दी जाती थी। कुछ दिनों बाद इन सभी आरोपितों ने पीड़िता पर इस्लाम कबूल करने का दबाव बनाना शुरू कर दिया। उसे जबरन मांस खिलाया जाता था।

पीड़िता का कहना है कि बीच-बीच में वह दिल्ली जाती थी तो अब्दुल उसे वापस अपने गाँव बुला लेता था और अपने घरवालों से रेप करवाता था। नवम्बर 2023 से अब्दुल सलाम पीड़िता से दूरी बनाने लगा। पीड़िता ने पता लगाया कि उसने किसी दूसरी लड़की से निकाह कर लिया है और ज्यादातर गाँव में रहने लगा। पीड़िता इसकी पड़ताल करने अब्दुल के गाँव गई तो वहाँ उसके साथ मारपीट की गई।

आखिरकार पीड़िता ने एक वीडियो जारी करके अपनी व्यथा लोगों को बताई और अब्दुल सलाम सहित अन्य आरोपितों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की माँग की। हिन्दू संगठनों तक मामला पहुँचने के बाद वो पीड़िता से मिले और शिकायत दर्ज कराने के लिए उसे अपने साथ लेकर थाने गए। आखिरकार अब्दुल सलाम, इदरीस, आसिफ, आमिल, अब्दुल, शमशेर को नामजद करते हुए 2 अन्य अज्ञात के खिलाफ FIR दर्ज कर ली गई।

पुलिस ने इन सभी आरोपितों पर भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 493, 494, 419, 376, 313, 504 और 506 के अलावा पॉक्सो एक्ट व उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म सम्परिवर्तन प्रतिषेध अधिनियम 2021 के तहत मामला दर्ज कर लिया। वहीं, मुजफ्फरनगर पुलिस ने 8 अप्रैल को X पर बताया कि अब्दुल सलाम को गिरफ्तार कर लिया। वहीं, अन्य आरोपितों की तलाश जारी है।

Leave a Reply