Thursday, February 22, 2024
Uncategorized

मुसलमान गिरोह का दलितों पर हमला,घर छोड़ने को मजबूर,औरतें घर छोड़ने को मजबूर

पीलीभीत के सिरसा गांव में प्रधान के पति पर दूसरे संप्रदाय के लोगों द्वारा हमला करने से गांव में तनाव बढ़ गया है। शांति व्यवस्था को लेकर पुलिस क्षेत्राधिकारी ने गांव पहुंचकर दोनों पक्षों के लोगों को बुलाकर उनसे वार्ता की। निष्पक्ष जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया। पुलिस फिलहाल अलर्ट मोड में है। तनाव को देखते हुए गांव में महिलाएं बच्चों के साथ रिश्तेदारों के यहां चली गई हैं।

पीलीभीत में गुरुवार को हंगामा देखने को मिला। तहसील क्षेत्र की ग्राम पंचायत सिरसा में प्रधान के पति पर दूसरे संप्रदाय के लोगों द्वारा हमला करने से गांव में तनाव बढ़ गया है। शांति व्यवस्था को लेकर पुलिस क्षेत्राधिकारी ने गांव पहुंचकर दोनों पक्षों के लोगों को बुलाकर उनसे वार्ता की। निष्पक्ष जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया।
सोमवार को प्रधान पति विजयपाल सरकारी कार्य निपटाकर घर जा रहे थे। उनका आरोप था कि पिपरिया दुलई ब्रह्मदेव स्थल के पास पहले से घात लगाए बैठे गांव के नावेद, आरिफ, राहत और मुजीब ने घेरकर जान से मारने की नीयत से तलवार से गर्दन और हाथ पर प्रहार किया था। जाति सूचक शब्दों का प्रयोग कर गालियां दी थीं। जानकारी मिलते ही सैकड़ों की संख्या में उनके समर्थक हाथों में लाठी डंडा आदि लेकर कोतवाली के बाहर जुट गए थे। जमकर हंगामा किया गया था।
हत्या के प्रयास का केस हुआ दर्ज
पुलिस ने चारों आरोपितों के विरुद्ध हत्या के प्रयास और दलित उत्पीड़न की प्राथमिकी दर्ज की है। हालांकि झगड़े को लेकर अभी भी दोनों पक्षों में बेहद रोष है। इसको लेकर गांव में तनाव का माहौल बढ़ रहा है। बताया जा रहा एक पक्ष के लोगों के घरों की महिलाओं और बच्चे रिश्तेदारी में चले गए हैं। उधर दूसरे पक्ष में भी रोष है। दोनों संप्रदाय के बीच तनाव को लेकर पुलिस भी पूरी तरह से अलर्ट है।

अलर्ट पर है पुलिस
पुलिस क्षेत्राधिकारी आलोक कुमार ने गांव पहुंचकर दोनों पक्षों से वार्ता की। लोगों से शांति व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश दिए गए। सीओ ने बताया कि घटना की निष्पक्ष जांच कर कार्रवाई की जाएगी। गांव में दोनों पक्षों के साथ वार्ता की गई है।

Leave a Reply