Saturday, February 24, 2024
Uncategorized

रोहित शर्मा बनकर घूम रहा था,मोहम्मद तोहिदिल अज़ीज़ हक उर्फ अहमद अरन खान

पूछताछ में आरोपित ने बताया कि वह सात साल पहले सूरत आया था। उसने शहर के विभिन्न स्पा में मैनेजर के रूप में काम किया। सबसे पहले उसने अहमद अरन खान के नाम से पहला फर्जी आधार कार्ड बनाया।
रोहित शर्मा बनकर रह रहा था तोहिदुल
रोहित शर्मा बनकर रह रहा था तोहिदुल (फोटो साभार : देश गुजरात)

सूरत में एक मुस्लिम युवक ने एक नहीं, दो नहीं, बल्कि तीन-तीन आधार कार्ड बनवा डाले। इनमें से एक आधार हिंदू व्यक्ति के नाम पर है। आरोपित व्यक्ति का नाम मोहम्मद तोहिदुल अजीज हक है। वो अब सूरत पुलिस की गिरफ्त में है। खास बात ये है कि इनमें से एक आधार कार्ड उसने ‘रोहित शर्मा’ के नाम से बनवाया था। इनमें तीनों में एक उसका वास्तविक आधार है, जबकि दो फर्जी हैं।

हिंदू लड़की से शादी के बाद बदल डाली अपनी पहचान

तोहिदुल ने सूरत की स्पा में काम करने वाली एक हिंदू लड़की से शादी भी कर ली। उस लड़की ने जब उसके साथ मुस्लिम बाहुल्य इलाके में रहने से मना कर दिया, तब उसने रोहित शर्मा नाम से नया आधार कार्ड बनवा डाला। स्पा में काम करने के लिए वो अहमद खान नाम का इस्तेमाल करता था। वहीं, हिंदू इलाके में के लिए रोहित शर्मा नाम इस्तेमाल करता था।

स्थानीय रिपोर्टों के अनुसार, पूछताछ के दौरान आरोपी ने कबूल किया कि उसने हिंदू नाम पर सरकारी दस्तावेज तैयार किया था क्योंकि वह शहर में एक हिंदू इलाके में रहना चाहता था। पुलिस ने बताया कि मोहम्मद तोहिदुल का एक हिंदू महिला से अफेयर था। उससे शादी करने के बाद आरोपी ने रोहित शर्मा के नाम से फर्जी आधार कार्ड बनवाया ताकि वे हिंदू इलाके में रह सकें।

महज 1500 रुपए खर्च करके अहमद खान से बना रोहित

खास बात ये है कि उसने महज 1500 रुपयों में न सिर्फ अपना नाम बदल लिया, बल्कि अपनी धार्मिक पहचान भी बदल ली। इसके पहले उसने अहमद खान के नाम से फर्जी आधार कार्ड बनवाया था। इसके बाद उसने स्पा में नौकरी हासिल की थी। तीनों पर उसकी ही शक्ल है।

पश्चिम बंगाल का निवासी है आरोपित

आरोपित तोहिदुल उर्फ अहमद खान उर्फ रोहित शर्मा मूल रूप से पश्चिम बंगाल के उत्तरी दिनाजपुर जिले का रहने वाला है। यहाँ वो कई तरह के काम कर चुका है। सूरत पुलिस की एसओजी टीम ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। फिलहाल उससे पूछताछ जारी है और कारनामे को अंजाम देने वाले उसके मददगारों की धरपकड़ कर रही है।

पूछताछ में आरोपित ने बताया कि वह सात साल पहले सूरत आया था। उसने शहर के विभिन्न स्पा में मैनेजर के रूप में काम किया। सबसे पहले उसने अहमद अरन खान के नाम से फर्जी आधार कार्ड बनाया। उसके बाद हिंदू लड़की के साथ हिंदू एरिया में रहने के लिए रोहित शर्मा के नाम से आधार बनवाया।

Leave a Reply