Monday, March 4, 2024
Uncategorized

हैदराबाद का इम्तियाज़ हरामजादा गिरफ्तार,हिंदू परिवार को मुसलमान बनाने की धमकी,नही तो लड़की की हत्या की धमकी

इंदौर: देश के सबसे स्वच्छ शहर इंदौर से धर्मान्तरण का एक बेहद हैरान करने वाला मामला प्रकाश में आया है। यहाँ एक हिन्दू लड़की को इस्लाम कबूल करवाने को लेकर दबाव डालने के लिए कई तरह के पैंतरे चले गए हैं। पीड़िता के पिता ने विजय नगर थाने में शिकायत दर्ज करते हुए कहा है कि हैदराबाद के IT कंपनी में इंजीनियर सैय्यद इम्तियाज ने मेरी बेटी को बंधक बनाकर पहले उससे शादी कर ली, और अब वो धमकी दे रहा है कि यदि 2 लाख रुपए नहीं दिए तो बेटी का धर्मांतरण करवा दूँगा। पुलिस ने मामले की गंभीरता के मद्देनज़र आरोपित इम्तियाज को अरेस्ट कर लिया है।

रिपोर्ट के अनुसार, इंदौर की निवासी एक हिन्दू युवती नौकरी के लिए हैदराबाद गई थी। वहाँ पीड़िता, एक मुस्लिम युवक इम्तियाज के संपर्क में आई और कुछ समय बाद दोनों ने शादी कर ली। इस मामले में युवती के पिता दयाराम गौर का कहना है कि हैदराबाद के निवासी इम्तियाज ने उनकी बेटी के साथ काम करने के दौरान दोस्ती की। फिर उसे अपने प्यार के जाल में फँसा कर उसकी अंतरंग तस्वीरें उतार ली। इसके बाद उसे धर्म परिवर्तन कर निकाह करने पर विवश किया गया। यही नहीं, इम्तियाज़ इंदौर आकर लड़की के पूरे परिवार पर धर्म परिवर्तन कर मुस्लिम बनने का दबाव बनाने लगा और साथ ही लड़की के पिता से 2 लाख रुपए की डिमांड करने लगा। इम्तियाज ने पीड़िता के पिता को लड़की के अश्लील तस्वीर और वीडियो को वायरल करने की भी धमकी दी।

रिपोर्ट के मुताबिक, पीड़िता के पिता ने कहा है कि मेरे पास इतने पैसे नहीं हैं। तो इम्तियाज ने धमकी दी कि तुम और तुम्हारी पत्नी सभी इस्लाम कबूल करो, वरना तुम्हारी बेटी को जान से मार डालूंगा। पिता ने कहा कि आरोपी, मेरी बेटी से मुझे बात भी नहीं करने दे रहा। उसने जाते हुए कहा कि तुम्हारी बेटी ने इस्लाम स्वीकार कर लिया है। मेरी बात नहीं मानी तो तुम्हारी बेटी को कहीं भी बेच डालूंगा और तुम कुछ नहीं कर पाओगे।

वहीं इस मामले में TI रवीन्द्र गुर्जर के अनुसार, पीड़िता के पिता दयाराम गौर की शिकायत पर पुलिस ने युवक को अरेस्ट कर लिया है। धर्म परिवर्तन की धाराओं में मामला दर्ज कर कार्रवाई आरंभ कर दी गई है। पिता ने कहा कि अब पुलिस मेरी बेटी को वापस दिलवा दे। रिपोर्ट के अनुसार, लड़की ने इंदौर के कॉलेज से इंजीनियरिंग की शिक्षा प्राप्त की है, वो पेशे से सॉफ्टवेर इंजीनियर है। हैदराबाद की कंपनी में उसका सिलेक्शन हुआ था। वो नौकरी करने के लिए गई थी, जहाँ इसकी मुलाकात सैयद इम्तियाज से हुई। पीड़िता ने निकाह की बात अपने परिजनों से भी छुपाई थी। बताया जा रहा है कि अब तक लड़के ने लड़की को बंधक बना कर रखा हुआ था।

बता दें कि, यह मामला मध्य प्रदेश का है, इसलिए यहाँ धर्म परिवर्तन कानून की धाराओं में केस दर्ज किया गया है। लेकिन, कुछ राज्य ऐसे भी हैं, जहाँ से यह कानून हटा दिया गया है, जैसे कर्नाटक। धर्मान्तरण के बढ़ते मामलों को देखते हुए कर्नाटक में पूर्व की सरकार ने लोगों की सुरक्षा के लिए एक कानून बनाया था, जिसमे लालच देकर, डरा-धमकाकर, धोखा देकर और अन्य अवैध तरीकों से धर्मान्तरण को कानूनन जुर्म घोषित किया गया था, हालाँकि, कानूनी तरीके से और स्वैच्छा से किसी के भी धर्मपरिवर्तन करने पर कोई पाबन्दी नहीं थी। लेकिन, राज्य में सत्ता परिवर्तन होने के कुछ महीनों बाद ही सिद्धरमैया सरकार (कांग्रेस) ने वो कानून ख़त्म कर दिया। ऐसे में यदि, उन राज्यों में ऐसी कोई घटना होती है, तो किन धाराओं में केस दर्ज किया जाएगा और पीड़ितों को इंसाफ कैसे मिलेगा, ये एक बड़ा सवाल है। क्या इस तरह के मामलों को रोकने के लिए देश को धर्मांतरण संबंधी कानून की जरूरत नहीं है ?

Leave a Reply