Monday, March 4, 2024
Uncategorized

मुसलमान बनाने के बड़े षड्यंत्र का खुलासा,

सालो से जारी

भोपाल के टीला जमालपुरा में धर्मांतरण के मामले में आरोपियों के नए-नए खुलासे हो रहे हैं। पीड़ितों के बयान के बाद पुलिस की जानकारी माया की आरोपियों ने धर्मांतरण के लिए पीड़ित के दो रिश्तेदारों को भी धमकाया था। पुलिस ने अब उन दोनों को भी पूछताछ के लिए थाने बुलाया है।

अगर रिश्तेदार भी आरोपियों के खिलाफ इस पूरे मामले में शिकायत करते हैं तो पुलिस इन छह आरोपियों पर एक बार फिर नई एफआईआर दर्ज कर सकती है। बताया जा रहा है कि आरोपी इलाके के लोगों को धमकाते थे और अली बाजी करते थे मोहल्ले के लोग भी इन बदमाशों से परेशान थे।
बता दे कि इंदिरा नगर के रहने वाले 24 साल के विजय रामचंदानी को 9 मई की रात एक शादी पार्टी से लौटने के दौरान राम मंदिर रोड पर फैजान लाला, साहिल बच्चा और समीर ने विजय को रोक लिया और उसके साथ मारपीट की। इसके बाद बिलाल मुफीद और साहिल विजय को चाकू की नोक पर पीजीबीटी कॉलेज मैदान में कोने पर ले गए और स्कूटर की चाबी और मोबाइल छीन कर पीटना शुरू कर दिया। पीड़ित युवक ने बताया कि आरोपी उसे जबरन धर्मांतरण करने और मियां बनने व मांस खाने के लिए मजबूर कर रहे थे।

युवक ने नहीं मानी बात तो बना दिया था
इसके बाद जब पीड़ित युवक विजय ने आरोपियों की बात नहीं मानी तो इस दौरान उन्होंने उसकी गले में पट्टा डालकर कुत्ते की तरह भौंकने को मजबूर किया। इस मारपीट का वीडियो बनाकर उसे वायरल करने की धमकी दी। उसके बड़े भाई लोकेश को फोन पर धमकाया और काफी देर कई मिन्नतें करने पर पीड़ित को छोड़ा मामले का वीडियो सोशल मीडिया के अलग-अलग माध्यमों पर वायरल होने के बाद इस मामले में टीला जमालपुरा पुलिस ने एफआईआर दर्ज की।

परिजनों में आरोपियों का खौफ

पीड़ित के भाई लकी रामचंदानी ने बताया कि आरोपियों का इलाके में ख्वाब दावे आए दिन किसी से भी मारपीट करते थे, गालियां देते थे, लोगों को परेशान करते थे। आम लोगों को परेशान करना उनकी आदत में शामिल हो गया था। विरोध करने वालों का हाल मेरे भाई की तरह ही होता था। उनसे इतना परेशान आ चुके थे कि पुराने मोहल्ले को छोड़ना पड़ा। अब हमें डर है कि भविष्य में जब भी आरोपी जेल से छूटेंगे वह बदला जरूर लेंगे।

पुलिस ने अब तक इस मामले में एक नाबालिग समेत छह लोगों पर एफ आई आर दर्ज की है पहले 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था। उसके बाद अगले दिन तीन और लोगों को गिरफ्तार किया गया। अब रिश्तेदारों के बयान लिए जा रहे हैं। पुलिस के मुताबिक इसके बाद इस मामले में और धाराएं बढ़ाई जा सकती है.
मामले में भोपाल सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर का बड़ा बयान
वहीं इस मामले सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर का बयान सामने आ गया है। उन्होंने कहा कि भोपाल और पूरे देश में धर्मांतरण की गतिविधियां प्रारंभ हो गई है युवक के गले में पट्टा डालकर धर्मांतरण के लिए दबाव बनाना शर्मनाक हरकतें मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आरोपियों को जो सजा दिलाई है मैं उसकी सराहना करती हूं। मैं यह भी कहती हूं कि उसी रात कुछ मुस्लिम युवकों ने एक युवती को भी मारा था मेरे पास रात 12:00 बजे जानकारी आई थी मैंने तत्काल मामला पुलिस को सौंप दिया था।

यह क्राइम एक षड्यंत्र है: प्रज्ञा ठाकुर

भोपाल सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कहा कि यह काम एक षड्यंत्र के तहत बड़े स्तर पर किया जा रहा है इधर भी उतारा हिंदुओं को धर्म से हटाने का काम किया जा रहा है। अब वह अपनी मानसिकता को खुले आम परोसने लगे हैं, इसलिए अब इनके लिए सख्त से सख्त कानून बनना चाहिए।

Leave a Reply