Monday, May 20, 2024
Uncategorized

हिन्दू महिलाओं पर पत्थर की बारिश मदरसे से,9 महिलाएं गंभीर, पथराव करने वालो ने न अगड़ा न पिछड़ा न जाति न जनजाति, सबको मारा

 

कुआं पूजन को जा रही महिलाओं पर मदरसे से हुआ पथराव

नूंह में एक बार फिर फिजा बिगाड़ने की कोशिश हुई है. कुआं पूजन के लिए जा रही महिलाओं पर गुरुवार शाम मदरसे के ऊपर से पथराव किया गया.

करीब 3 महीने की शांति के बाद हरियाणा के नूंह जिले में एक बार फिर तनाव बन गया है. पुलिस के मुताबिक मंगलवार देर शाम कुछ महिलाएं कुआं पूजन के लिए मंदिर जा रही थी. तभी बड़ी मस्जिद के ऊपर से उपद्रवियों ने उन पर पथराव कर दिया. घटना में कई महिलाएं घायल हो गईं, जिसमें एक हालत गंभीर बताई जा रही है. मामले की सूचना मिलते ही एसपी नरेंद्र सिंह पुलिस बल के साथ तुरंत मौके पर पहुंचे और हालात पर काबू पाया

‘महिलाओं पर मदरसे से बरसाए गए पत्थर’

एसपी ने बताया कि महिलाएं गीत गाते हुए कुआं पूजन के लिए जा रही थी. तभी मदरसे के ऊपर से कट्टरपंथियों ने उन पर पत्थर फेंकने शुरू कर दिए. इस घटना में कई महिलाओं को चोटें आने की जानकारी मिली है. उन्हें इलाज के लिए अस्पताल भिजवाया गया है. घटना के बाद इलाके में फिर से पुलिस बल तैनात कर दिया गया है.

‘आरोपियों को चिह्नित कर लिया गया’

एसपी नरेंद्र सिंह के मुताबिक घटना में शामिल कई आरोपियों को चिह्नित कर लिया गया है. उन्हें जल्द ही पकड़ लिया जाएगा. मदरसे के मौलवी पर भी कार्रवाई की जाएगी. घटना के बाद दोनों समुदाय के लोग इकट्ठा हो गए थे. उन्हें समझाबुझाकर वापस भेजा गया है. उन्होंने चेतावनी दी कि अगर किसी ने हालात बिगाड़ने की कोशिश की तो उसके खिलाप कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

इस साल 28 जुलाई को भड़की थी हिंसा

बताते चलें कि विहिप ने इस साल 28 जुलाई को नूंह में जलाभिषेक यात्रा का आयोजन किया था, जिस पर बड़े पैमाने पर हमला किया गया था. उपद्रवियो ने इस यात्रा में शामिल लोगों की दर्जनों गाड़ियां जला दी थीं. साथ ही उन पर गोलियों और धारदार हथियारों से भी वार किया था. इसकी प्रतिक्रिया में गुरुग्राम और फरीदाबाद में दंगे भड़क उठे थे, जिसमें कई लोगों की जान चली गई थी. उसके बाद पुलिस ने जब दंगाइयों पर नकेल कसी तो इलाके में धीरे-धीरे शांति आने लगी थी. लेकिन अब फिर हालात खराब करने की कोशिश की गई है.

हरियाणा के नूंह में हुए हिंसा की लहक अभी खत्म भी नहीं हुई थी कि, एक बार फिर नूंह में स्थिति असमान्य होने के आसार दिखने लगे। जहां एक बार फिर सांप्रदायिक तनाव का एक और रुप देखने को मिला है। जानकारी के लिए बता दें कि, गुरुवार को कुआं पूजन के लिए जा रही महिलाओं पर मस्जिद के ऊपर से किया गया पथराव। जिसके बाद मामला लगातार बिगड़ता हुआ नजर आने लगा।

मौके पर पहुंची पुलिस

वहीं जानकारी के अनुसार बता दें कि, लोगों में बढ़ते आक्रोश को देखते हुए मौके पर पहुंची पुलिस बल ने भड़कती हिंसा को काबू में कर लिया। इसके साथ ही जारी निर्देश के अनुसार चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है। बता दें कि, पुलिस को देखने के बाद कुछ लोगों ने पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद के नारे भी लगाए।

कल नूंह बंद करने की उठाई मांग

बात अगर वहां मौजूद लोगों की करें तो, उनसे मिली जानकारी के अनुसार बता दें कि, महिलाएं कुआं पूजन के लिए जा रही थी तब मस्जिद से पथराव हुआ जिसको महिलाओं ने नजरअंदाज कर दिया। लेकिन जैसे ही यह बच्चे औए महिलाएं लौट रहे थे फिर पथराव हुआ जिसकी फोटोज महिलाओं ने खींच ली। इसके साथ ही खबर ये भी सामने आ रही है कि, वहीं मौजूद लोगों ने कल नूंह बंद करने की मांग की है।

Leave a Reply