Friday, June 21, 2024
Uncategorized

व्यापारी की पत्नी से गैंगरेप और सिगरेट से जलाने में,सनसनीखेज खुलासा

यूपी के बिजनौर में कारोबारी के घर लूट और पत्नी से गैंगरेप के मामले में पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा किया है. पुलिस के मुताबिक, इस पूरे कांड के पीछे कोई और नहीं बल्कि खुद कारोबारी की पत्नी और उसका प्रेमी है. पत्नी ने अपने प्रेमी का कर्ज उतारने के लिए पूरी साजिश रची थी. घर में घुसकर गैंगरेप, लूट और शरीर को सिगरेट से दागने की फर्जी कहानी उन दोनों ने मिलकर बनाई थी.

बिजनौर पुलिस ने लूट की इस फर्जी घटना का खुलासा करते हुए पेंट कारोबारी की पत्नी और उसके प्रेमी पुष्पेंद्र को लूटे गए सामान सहित गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने बताया कि शेयर बाजार में पैसा डूबने के कारण पुष्पेंद्र पर काफी कर्ज हो गया था. जिसको उतारने के लिए कारोबारी की पत्नी ने मिलकर लूट, गैंगरेप की झूठी कहानी गढ़ी थी.

पति ने दर्ज कराई थी शिकायत

बता दें कि 15 नवंबर को बिजनौर के पेंट कारोबारी मोहित राणा द्वारा घर में घुसकर पांच बदमाशों द्वारा लूट और पत्नी के साथ गैंगरेप और उसके शरीर को सिगरेट से दागने का मुकदमा दर्ज कराया गया था. इस घटना के बाद पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया था. कारोबारी ने यह भी आरोप लगाया था कि उसके यहां 19 अक्टूबर को भी दो बदमाशों ने लूट की थी और 80 हजार लूट ले गए थे.

जिसकी शिकायत भी उसने पुलिस को की थी लेकिन पुलिस ने आश्वासन देने के अलावा कोई कार्रवाई नहीं की. इसी बात को ध्यान में रखते हुए एसपी ने नगीना देहात थाना प्रभारी विकास कुमार को लाइन हाजिर कर दिया था.

कारोबारी के घर डकैती और पत्नी से हैवानियत का मामला लखनऊ तक गूंजा था. डीआईजी को खुद मौके पर जाकर परिजनों से बात करनी पड़ी थी. लेकिन देर शाम पुलिस ने पूरी घटना का खुलासा करते हुए बताया कि कारोबारी की पत्नी के साथ रेप की कोई घटना नहीं हुई थी. मेडिकल रिपोर्ट में भी इसकी पुष्टि हो चुकी है.

पुलिस ने किया हैरान कर देने वाला खुलासा

लूट करने वाला कोई और नहीं कारोबारी की पत्नी का पुराना प्रेमी है, जो किरतपुर के चितावर गांव का रहने वाला है. लेकिन हाल ही में बिजनौर शहर के आदर्श नगर मोहल्ले में रह रहा था. घटना वाले दिन व्यापारी की पत्नी ने ही अपने प्रेमी को फोन करके घर बुलाया था. उस वक्त उसके पति और सास, बच्चे अपनी एक रिश्तेदारी में गए हुए थे.

खुद अपने हाथ से शरीर को सिगरेट से जलाया था 

इस दौरान प्रेमी द्वारा कथित लूट की घटना को अंजाम दिया गया था, जिसमें पुष्पेंद्र घर में रखे डेढ़ लाख रुपये, ज्वेलरी और मोबाइल तथा LED अपने साथ ले गया था. साथ में घर में खड़ी एक स्कूटी को भी ले गया. वहीं, कारोबारी के पत्नी के शरीर पर जो सिगरेट से दागने के निशान थे उसे खुद उसने अपने हाथों से जलाया था.

सिगरेट से हाथ जलाने का किया था दावा

एसपी नीरज जादौन के अनुसार, कारोबारी की पत्नी ने केस को भटकाने के लिए खुद सिगरेट से अपने हाथ जलाए थे. सर्विलांस जांच के बाद आरोपी प्रेमी को गिरफ्तार करते हुए उसके कब्जे से घर से लूट में दिखाया गया सभी सामान बरामद कर लिया गया है. अब उसको जेल भेजने की तैयारी की जा रही है. आरोपी पत्नी के खिलाफ भी जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी.

कारोबारी की पत्नी के प्रेमी ने क्या बताया? 

पकड़े गए पुष्पेंद्र ने पुलिस को पूछताछ में बताया की कारोबारी की पत्नी और वह दोनों 10 से 12 साल पहले एक स्कूल में पढ़ाते थे. जिसके बाद उन दोनों के बीच संबंध बन गए थे. पुष्पेंद्र शेयर बाजार में पैसा लगाने के बाद कर्ज में डूब गया था. इसी कर्ज को उतरने के लिए उसने अपनी प्रेमिका के साथ मिलकर लूट की यह झूठी कहानी रची थी.

कारोबारी की पत्नी के कहने पर ही पुष्पेंद्र बाकायदा अलमारी के ताले काटने के लिए कटर लेकर पहुंचा था. कटर से अलमारी के ताले काटकर 25 तोला सोना, 2 किलो चांदी और डेढ़ लाख रुपया कैश लेकर भाग गया. साथ में एक एलईडी और स्कूटी भी ले गया था.

उठ रहे ये सवाल

फिलहाल, पुलिस ने पुष्पेंद्र की गिरफ्तारी के बाद घटना का खुलासा कर दिया है. लेकिन अभी इस मामले में कुछ सवाल उठ रहे हैं, जिसका पुलिस सही से जवाब नहीं दे पाई है. जैसे- घर से एलईडी, स्कूटी और अन्य सामान एक आदमी नगीना देहात से बिजनौर शहर यानी 60 किलोमीटर तक अकेला कैसे ले गया? क्योंकि पुलिस ने इसमें अभी तक अकेले पुष्पेंद्र को ही गिरफ्तार किया है. अन्य लोगों के शामिल होने के सवाल पर आगे जांच की बात कह कर अपना पल्ला झाड़ रही है.

Leave a Reply