Friday, May 24, 2024
Uncategorized

सट्टा बाजार में कांग्रेस का हाल बुरा 3₹ पहुंचा रेट

किसके सिर सजेगा सत्ता का ताज?
सवाल आपका है

राजस्थान में विधानसभा चुनावों के लिए मतदान के सिर्फ 11 दिन बचे हैं। राजस्‍थान विधानसभा चुनाव 2023 जीतकर कांग्रेस सत्ता अपने हाथ में ही रखेगी या अबकी बार भाजपा सरकार? ऐसे में सभी पार्टियां जीत के लिए पूरा दम लगा रही हैं। लगातार केंद्रीय नेता भी प्रदेश के दौरों पर एक्टिव हैं। सब जानना चाहते हैं कि प्रदेश में किस पार्टी को बहुमत मिलने जा रहा है। इसको लेकर फलौदी का सट्टा बाजार भी गर्म है। वहां हर दिन कांग्रेस-बीजेपी के रेट बढ़ रहे हैं।

इस बार किसकी बनेगी सरकार?

इसका पता 25 नवंबर को मतदान व 3 दिसंबर को मतगणना के बाद ही चल सकेगा। इससे पहले कई तरह के ओपिनियन पोल, सर्वे भी सामने आ रहे हैं। साथ ही सट्टा बाजार के भावों पर भी सबकी नजर है। राजस्‍थान में चुनाव हो और फलोदी सट्टा बाजार के भावों की चर्चा ना हो। ऐसा संभव ही नहीं, क्‍योंकि इतिहास गवाह है कि चुनावों में फलोदी सट्टा बाजार के भाव सबसे सटीक होते हैं। ऐसे हर किसी के जेहन में सवाल उठ रहा है कि आखिर इस बार फलोदी सट्टा बाजार किसकी सरकार बना रहा है?

मीडिया की खबरों की मानें तो फलोदी सट्टा बाजार राजस्‍थान विधानसभा चुनाव 2023 में भाजपा की वापसी का अनुमान लगा रहा है। भाजपा को राजस्‍थान विधानसभा की 200 में 110 सीट और कांग्रेस को 70 सीट मिलने की संभावना जताई जा रही है। फलोदी सट्टा बाजार में भाजपा के भाव 20-25 पैसे और कांग्रेस के भाव ढाई से तीन रुपए चल रहे हैं।

30 सीटों में लगे दांव

फलोदी के सटोरियों के हवाले से खबर है कि भारतीय जनता पार्टी ने राजस्‍थान विधानसभा चुनाव 2023 में सीएम फेस घोषित करके खुद का थोड़ा नुकसान कर लिया। भाजपा अगर वसुंधरा राजे सिंधिया को सीएम फेस बनाकर चुनाव लड़ती तो 140 सीटें मिलने की उम्‍मीद थी। सीएम फेस घोषित नहीं करने से भाजपा को राजस्‍थान चुनाव में 30 सीटों कम मिलने का अनुमान लगाया जा रहा है।

उल्‍लेखनीय है कि विधानसभा व लोकसभा चुनाव में कई बार फलोदी सट्टा बाजार के सटोरियों के अनुमान सटीक रहे हैं। ऐसे में फलोदी सट्टा बाजार की देश ही नहीं बल्कि विदेश में भी ख्‍याति है। फलोदी राजस्‍थान के जोधपुर के पास है। पहले जोधपुर जिले का उपखंड था। अब खुद फलोदी ही जिला बन गया है।

Leave a Reply