Friday, May 24, 2024
Uncategorized

37 ज़िंदगियाँ लाश बनी,ड्राइवरों के कॉम्पिटिशन में

: 37 लोगों की जिंदगियां छीनने वाले बस हादसे का असली सच सामने आ गया है। जम्मू-कश्मीर के डोडा में असार क्षेत्र में ट्रुंगल के पास एक खड़ी ढलान से 300 फीट नीचे एक बस खाई में गिर गई। बस में 55 यात्री सवार थे, जिनमें से 37 लोगों की मौके पर मौत हो गई, वहीं 18 लोग घायल हुए हैं। पुलिस के अनुसार, शुरुआती जांच में हादसे की वजह ओवरटेकिंग है। दरअसल, एक रोड पर 3 बसें एक साथ चल रही थीं। तीनों के बीच एक- दूसरे से आगे निकलने की होड़ में हादसा हो गया। पुलिस मामले की जांच कर रही है। जिला उपायुक्त, SSP डोडा सहित अन्य कई पुलिस अधिकारियों ने हादसास्थल पर पहुंचकर जांच पड़ताल की।

उप-राज्यपाल और प्रधानमंत्री की मुआवजे की घोषणा

वहीं हादसे पर दुख जताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा ने मुआवजे का ऐलान किया। उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा ने प्रत्येक मृतक के परिजन को 5 लाख रुपये और घायलों को एक लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हादसे में मरने वाले 37 लोगों निकट संबंधियों को 2 लाख रुपये तथा घायलों को 50 हजार रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की। प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) की ओर से X हैंडलर पर पोस्ट में लिखा गया कि जम्मू एवं कश्मीर के डोडा में हुई दुर्घटना के कारण लोगों की मृत्यु से पीड़ा हुई है। मेरी संवेदनाएं अपने प्रियजनों को खोने वाले परिवारजनों के साथ हैं। मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं।

हादसे से चंद मिनट पहले का CCTV फुटेज वायरल

वहीं अब डोडा हादसे से कुछ समय पहले का एक CCTV फुटेज भी सामने आया है, जो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। फुटेज में साफ देखा जा सकता है कि यात्रियों से भरी बस पहाड़ पर बनी क्रॉसिंग को सुरक्षापूर्वक पार करके आगे चली गई, लेकिन क्रॉसिंग को पार करने के बाद बस सड़क से फिसल गई और 300 फीट गहरी खाई में गिर गई।

Leave a Reply